ख़बरें राज्यों से

रिश्तेदारों पर रौब जमाने के लिए महिला बनी फर्जी एसडीएम, फर्जी पुलिस को लेकर शादी समारोह में पहुंची

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में एक महिला रिश्तेदारों में रौब झाड़ने के लिए फर्जी एसडीएम बन गई। महिला एक नकली पुलिसकर्मी के साथ शादी समारोह में एसडीएम बनकर पहुंची थी। इस शादी समारोह में कई हाईप्रोफाइल लोग आए हुए थे। महिला एक प्राइवेट टैक्सी कंपनी से गाड़ी हायर की थी, जिस पर एसडीएम लिखा हुआ था।

शादी भोपाल के मिसरोद थाना क्षेत्र स्थित एक बड़े मैरिज गार्डन में थी। उस शादी में राज्यपाल भी पहुंचे थे। इसमें सोहित कुमार मोरछले एक सफेद रंग की एसयूवी कार से पहुंचा। कार के आगे-पीछे एसडीएम लिखा था। उसमें एक महिला भी सवार थी। महिला शादी कार्यक्रम में अंदर चली गई वहीं सोहित मध्य प्रदेश पुलिस लिखा काला बेल्ट लिए हुए था। आते जाते लोगों को बेल्ट घुमाकर चमका रहा था। विरोध करने पर स्वयं को एक एसडीएम मैडम का ड्रायवर बताकर रसूख झाड़ रहा था।

आरोपी अपनी कार के आस पास किसी कार को पार्क नहीं होने दे रहा था। विरोध करने वालों से बदसलूकी कर रहा था। तत्काल थाने में बंद कराने की धमकी दे रहा था। जिसकी सूचना लोगों ने पुलिस को दी थी। इसके बाद पुलिसकर्मियों ने उससे पूछताछ शुरू की तो पता चला कि वह फर्जी है। पुलिस पर रौब झाडऩे के लिए उसने फोन निकाल लिया और मैडम से बात कराने की धौंस दी।

पुलिस ने महिला को बुलाकर पूछताछ की तो पहले तो वह पुलिस पर रौब गांठने लगी लेकिन पोल खुलते ही चुप हो गई है। बताया जा रहा है कि महिला किसी रसूखदार की करीबी थी तो उसे पुलिस ने जाने दिया, लेकिन युवक सोहित पर केस दर्ज कर उसे हिरासत में ले लिया है।

मिसरोद थाने लाकर पूछताछ में उसने बताया कि लोगों पर रौब गांठने के लिए फर्जी वर्दी सिलवा ली थी और उसे पहनकर आराम से घूम रहा था। एडिशनल सीपी सचिन अतुलकर ने बताया कि विवेचना जारी है अगर महिला पर कोई केस बनता है तो जरूर उस पर केस दर्ज किया जाएगा। मिसरोद थानाप्रभारी आरबी शर्मा के मुताबिक मूलत: हरदा निवासी सोहित कुमार मोरछाले इंदौर में रहता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.