ख़बरें राज्यों से

थाने में सिरफिरे ने अंदर घुसकर छह पुलिसकर्मियों को मारा चाकू, बोला- तुम लोग ठीक से काम नहीं करते

दिल्ली। दिल्ली के शाहदरा जिले के साइबर थाने में बुधवार दोपहर एक सिरफिरे ने एक के बाद एक छह पुलिस कर्मियों को चाकू मार दिया। आनन-फानन में थाने का गेट बंद कर उसे काबू करने का प्रयास किया गया तो आरोपी ने अपना सिर दीवार में दे मारा, जिससे वह खुद भी जख्मी हो गया। हमलावर युवक कह रहा था कि ‘तुम लोग ठीक से काम नहीं करते हो। मैं तुम्हारी ऐसी-तैसी कर दूंगा।’

शाहदरा जिले के साइबर थाने में ही तीसरी मंजिल पर जिले साइबर थाना मौजूद है। बुधवार दोपहर को साइबर थाने का स्टाफ अपने-अपने कामों में लगा हुआ था। अचानक दोपहर करीब 1.00 बजे आरोपी भरत भाटी वहां पहुंचा। इस बीच हवलदार दीपक एक शिकायतकर्ता की बात सुन रहा था। भरत ने वहां पहुंचते ही मोबाइल निकलकर वीडियो बनाना शुरू कर दिया। दीपक ने जब उससे बातचीत करने का प्रयास किया तो आरोपी पुलिस स्टाफ के लिए गाली-गलौज करने लगा।

दीपक (34) ने उसे पकड़ने का प्रयास किया तो अचानक आरोपी एक बड़ा किचन वाला चाकू निकालकर उस पर हमला कर दिया। दीपक को तीन जगह चाकू लगा। वहां मौजूद सिपाही अमित (32) को भी आरोपी ने चाकू मार दिया। दोनों को चाकू मारने के बाद आरोपी जीने की ओर भागा। वहां जीने की ओर मौजूद होमगार्ड रवि वर्मा (31) व मनीष (27) ने भी आरोपी को पकड़ने का प्रयास किया तो आरोपी ने उन पर भी चाकू से हमला कर दिया।

शोर मचा तो नीचे शाहदरा थाने में तैनात हवलदार सुनील व सिपाही नरेश ने भी भरत को पकड़ने का प्रयास किया। आरोपी ने सीधे चाकू सुनील के सीने में घोंप दिया। नरेश के भी गई जगह चाकू लगे। इसके बाद भी वह काबू में नहीं आया तो थाने का गेट बंद कर दिया गया। आरोपी ने खुद की गर्दन पर चाकू रखकर हल्का कट भी लगा लिया। इसके बाद आरोपी ने कई बार अपना सिर दीवार में मारा, जिससे उसके सिर से खून बहने लगा। इसके बाद उसे चाकू समेत पकड़ लिया गया।

थाने में मौजूद वाहनों की मदद से घायलों को अस्पताल ले जाया गया। जहां मनीष, नरेश और आरोपी भरत को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई। बाकी का इलाज जारी है। सुनील की हालत बेहद नाजुक बताई जा रही है।

घायल हुए सभी छह जवानों व आरोपी को जीटीबी अस्पताल ले जाया गया, जहां एक हैड कांस्टेबल की हालत बिगड़ने पर उसे एम्स रेफर कर दिया गया। एक होमगार्ड समेत तीन को मैक्स अस्पताल रेफर किया गया है। बाकी दो पुलिस कर्मियों को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई।

जांच के दौरान पुलिस को पता चला है कि आरोपी भरत अपने भाई व बहन के साथ बलबीर नगर शाहदरा में रहता है। इसके माता-पिता की मौत हो चुकी है। पुलिस आरोपी से पूछताछ कर हमले का कारण पूछ रही है। हालांकि आशंका व्यक्त की जा रही है कि आरोपी ने सनक की वजह से वारदात को अंजाम दिया। वह थाने क्यों आया, वीडियो क्यों बना रहा था और पुलिस वालों पर चाकू से हमला क्यों किया? इन सब सवालों के जवाब अभी नहीं मिल पाए हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.