अंतर्राष्ट्रीय

काबुल में गुरुद्वारा कार्ते परवान पर हमला, दहशत का माहौल

काबुल। अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में हथियारबंद बंदूकधारियों द्वारा गुरुद्वारे कार्ते परवान पर ताबड़तोड़ फायरिंग की खबर सामने आ रही है। इस घटना में कई लोगों के मारे जाने की भी आशंका है। हमले के दौरान काफी देर तक गोलीबारी हुई है और विस्‍फोट भी हुए हैं।

समाचार पत्र इंडियन एक्सप्रेस ने गुरुद्वारा अध्यक्ष गुरनाम सिंह के हवाले से यह जानकारी दी है। गुरनाम सिंह ने बताया है कि बंदूकधारियों ने अचानक गुरुद्वारे पर धावा बोला और फिर ताबड़तोड़ फायरिंग करने लगे। कुछ लोग इमारत के दूसरी तरफ छिपे हुए हैं। गुरुद्वारा करता परवन काबुल में सिख समुदाय का केंद्रीय गुरुद्वारा है। तालिबान के अधिग्रहण के बाद से देश में कम से कम 150 अफगान सिख अभी भी फंसे हुए हैं। वे पिछले कुछ महीनों से भारत से वीजा मांग रहे हैं।

अफगान पत्रकार बिलाल सरवरी ने तालिबान के हवाले से बताया कि गुरुद्वारे के गेट के बाहर सबसे पहले विस्‍फोट हुआ जिसमें कम से कम दो अफगान लोग मारे गए हैं। इसके बाद गुरुद्वारे के अंदर दो विस्‍फोट हुए। इस हमले की चपेट में गुरुद्वारे से सटी सिखों की कुछ दुकानें भी आ गईं और उनमें आग लग गई। दो हमलावर अभी गुरुद्वारे के अंदर मौजूद हैं और तालिबानी सुरक्षाकर्मी उन्‍हें जिंदा पकड़ने की कोशिश कर रहे हैं।

2021 में भी अटैक
2021 में अक्टूबर के महीने में इस गुरुद्वारा में कुछ हथियारबंद दाखिल हो गए थे। सुरक्षा में तैनात गार्ड्स को हिरासत में लेने के साथ ही सीसीटीवी कैमरों को तोड़ डाला था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 10-16 हथियारबंद अज्ञात लोग गुरुद्वारा के अंदर दोपहर के वक्त दाखिल हुए थे। तीन गार्ड्स के हाथ-पैर बांध दिए थे और गुरुद्वारे से वापस बाहर निकलते हुए सीसीटीवी को नुकसान पहुंचाया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.