एनसीआरख़बरें राज्यों सेनागरिक मुद्देनियुक्तियाँराष्ट्रीयविशेष रिपोर्ट

बैंक कर्मचारी हैं तो आपके लिए आई सबसे बड़ी खबर, Pension में मिला जबरदस्‍त हाइक

पढ़िये दैनिक जागरण  की ये खास खबर….

मोदी सरकार ने Sarkari Bank Pensioners को त्‍योहार से पहले बड़ा गिफ्ट दिया है। उनकी पेंशन में जबरदस्‍त इजाफा किया है। फाइनेंस सेक्रेटरी की मानें तो बैंक कर्मचारियों के Pension Payout की 9284 रुपए की सीमा को बढ़ाकर 30 से 35 हजार रुपए कर दिया गया है।

नई दिल्‍ली, बिजनेस डेस्‍क। मोदी सरकार ने Sarkari Bank Pensioner को त्‍योहार से पहले बड़ा गिफ्ट दिया है। उनकी पेंशन में जबर्दस्‍त इजाफा किया है। फाइनेंस सेक्रेटरी की मानें तो बैंक कर्मचारियों के Pension Payout की 9284 रुपए की सीमा को बढ़ाकर 30 से 35 हजार रुपए कर दिया गया है। साथ ही NPS के तहत बैंकरों का Employee Pension के लिए योगदान 10 फीसद से बढ़ाकर 14 फीसद कर दिया गया है।

केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण ने बुधवार को सरकारी बैंकों के प्रमुखों के साथ बैठक में इसका ऐलान किया।उन्‍होंने कहा कि बैंकरों ने Covid 19 Mahamari के दौरान बेहतरीन ढंग से अपनी ड्यूटी निभाई। इसके लिए सरकार उनकी प्रशंसा करती है।

FM ने बताया कि एक्‍सपोर्ट कारोबारियों की जरूरत को ध्‍यान में रखकर बैंकों से बात हुई है। इसके अलावा उद्योग के बड़े दिग्‍गजों से भी मुलाकात अच्‍छी रही।

FM ने बताया कि Fintech sector को भी अच्‍छे बैंकिंग सपोर्ट की जरूरत है। कई ऐसे सेक्‍टर उभर रहे हैं, जिन्‍हें बैंकों से पूंजी का सहारा चाहिए। बैंकों से कहा गया है कि वे नॉर्थईस्‍ट राज्‍यों के लिए अच्‍छी योजना लेकर आएं। उन्‍हें राज्‍यवार प्‍लान बनाकर देना चाहिए ताकि वहां एक्‍सपोर्ट और दूसरे काम को बढ़ावा मिल सके।

FM ने बताया कि पूर्वी भारत में डिपॉजिट में इजाफा हुआ। लेकिन हमें Loan की जरूरतें भी पूरी करनी हैं। रेवेप्‍यू सेक्रेटरी तरुण बजाज ने कहा कि डायरेक्‍ट ओवरसीज लिस्टिंग पर अभी बातचीत चल रही है। बैंकों को स्‍ट्रैटेजिक सेक्‍टर में अपनी उपस्थिति बढ़ानी होगी।

इससे पहले वित्त सचिव टी वी सोमनाथन ने मंगलवार को कहा था कि सरकार बैंक गारंटी के विकल्प के तौर पर बीमा बांड पेश करने पर विचार कर रही है। सोमनाथन ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और उद्योग प्रमुखों की बैठक के दौरान यह घोषणा की। बैंक गारंटी आमतौर पर ऋण देते समय मांगी जाती है और सामान्य रूप से गिरवी संपत्ति के तौर पर इसकी जरूरत होती है। एक बीमा बांड भी गारंटी की तरह है लेकिन इसके लिए किसी प्रकार की रहन की जरूरत नहीं होती। साभार-दैनिक जागरण

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

मारा गाजियाबाद के व्हाट्सअप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.