राष्ट्रीय

अग्निपथ: वायुसेना में अब तक 56 हजार से अधिक युवाओं के आवेदन, पांच जुलाई को बंद हो जाएगा पंजीकरण

नई दिल्ली। अग्निपथ योजना के खिलाफ भारी हंगामे के बावजूद भारतीय वायुसेना को अग्निवीरों की भर्ती करने के लिए अब तक 56,960 आवेदन मिले हैं। वायु सेना अग्निपथ योजना के तहत इस साल तीन हजार अग्निवीरों की भर्ती करेगा।

वायुसेना ने रविवार को ट्वीट किया, 56960! यह अग्निपथ भर्ती आवेदन प्रक्रिया के जवाब में वेबसाइट पर भविष्य के अग्निपथ से अब तक प्राप्त आवेदनों की कुल संख्या है। पंजीकरण पांच जुलाई को बंद हो जाएगा। वायु सेना अग्निपथ योजना के तहत इस साल तीन हजार अग्निवीरों की भर्ती करेगा।

अग्निवीरों का प्रशिक्षण 30 दिसंबर से शुरू हो जाएगा। केंद्र सरकार ने 14 जून को अग्निपथ योजना पेश करते हुए कहा था कि साढ़े 17 से 21 वर्ष की आयु के युवाओं को चार साल के कार्यकाल के लिए भर्ती किया जाएगा, जिनमें से 25 प्रतिशत को बाद में नियमित सेवा के लिए शामिल किया जाएगा।

अग्निपथ योजना: आज से वायुसेना में खुली भर्ती, यहाँ जानें कैसे करना है अप्लाई

देश के कई हिस्सों में इस योजना के खिलाफ हिंसक विरोध प्रदर्शन हुए थे। सरकार ने 16 जून को इस योजना के तहत भर्ती के लिए ऊपरी आयु सीमा को वर्ष 2022 के लिए 21 से बढ़ाकर 23 वर्ष कर दिया था। साथ ही बाद में उनकी सेवानिवृत्ति पर केंद्रीय अर्धसैनिक बलों और सार्वजनिक क्षेत्र के रक्षा उपक्रमों में उनके लिए वरीयता जैसे कई कदमों की घोषणा की थी।

भाजपा शासित कई राज्यों ने भी घोषणा की कि अग्निवीरों को राज्य पुलिस बलों में शामिल होने में प्राथमिकता दी जाएगी। सशस्त्र बलों ने हालांकि यह स्पष्ट कर दिया है कि नयी भर्ती योजना के खिलाफ हिंसक विरोध प्रदर्शन और आगजनी करने वालों को भर्ती प्रक्रिया में शामिल नहीं किया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.