मेरा स्वास्थ्य

मोमोज खाकर हुई एक शख्स की मौत! एम्स के डॉक्टर्स ने जारी की चेतावनी

नई दिल्ली। आज की दौड़ती भागती जिंदगी में लोगों को जंक फूड का काफी शौक है। लोग भरपेट खाने के बजाय ऐसी बाहरी चीजों पर ज्यादा डिपेंड रहने लगे हैं। इससे लोगों की लाइफस्टाइल पर भी खास फर्क पड़ा है। ऐसे में एम्स ने मोमोज खाने वालों को नसीहत दी है।

एम्स ने ‘फॉरेंसिक इमेजिंग’ नामक जर्नल में हाल में ही एक रिपोर्ट प्रकाशित की है। इस रिपोर्ट के मुताबिक लगभग 50 साल के एक व्यक्ति की मौत मोमोज खाने के बाद गला चोक होने से हो गई। जब इस व्यक्ति का पोस्टमार्टम किया गया तो उसकी सांस नली में मोमोज का टुकड़ा पाया गया। इसी के आधार पर डॉक्टर्स इस निष्कर्ष पर पहुंचे कि व्यक्ति की मौत मोमोज खाने से हुई है।

इस घटना के सामने आने के बाद डॉक्टर्स ने ये चेतावनी जारी की है कि मोमोज को निगलने से पहले अच्छी तरह चबाकर खाना चाहिए। दरअसल मोमोज मैदे से बना होता है और मैदा चिकना होता है। इसके अलावा मोमोज के ऊपरी पर्त पर इन्हें चिपकने से रोकने के लिए तेल भी लगा दिया जाता है। इस कारण से मोमोज काफी स्लिपरी (चिकना) हो जाता है। ऐसे में अगर कोई व्यक्ति बिना चबाए मोमोज खाता है, तो चिकना होने के कारण ये गले में फंस सकता है।

एम्स की रिपोर्ट से अलग बात करें तो मोमोज की चटनी भी सेहत के लिए बहुत नुकसानदायक होती है। ओनलीमायहेल्थ पर प्रकाशित एक लेख में डायटीशियन लक्षिता जैन बताती हैं कि मोमोज की चटनी खाने से आपको कई समस्याएं हो सकती हैं। इममें बहुत ज्यादा मात्रा में लाल मिर्च, तेल और मसालों का प्रयोग किया जाता है, जिसके कारण इस चटनी का ज्यादा सेवन बवासीर, अपच, सीने में जलन, पेट दर्द, एसिडिटी जैसी समस्याएं दे सकता है। इसके अलावा कच्चा मैदा होने के कारण ये कब्ज, अपच और बदहजमी का भी कारण बन सकता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.