अंतर्राष्ट्रीय

‘फ्री स्पीच में भरोसा नहीं करता ट्वीटर, वामपंथ के प्रति गहरा झुकाव और एलन मस्क से है नफरत’, ट्वीटर के इंजीनियर का वीडियो वायरल

अमेरिकी अरबपति एलन मस्क द्वारा ट्विटर के अधिग्रहण प्रस्ताव के बाद से इस चर्चित सोशल मीडिया साइट को लेकर कई बातें सामने आ रही हैं। अब कंपनी के एक वरिष्ठ इंजीनियर की सीक्रेट वीडियो रिकॉर्डिंग सामने आई है। इसमें वह कह रहे हैं कि ट्विटर का अभिव्यक्ति की आजादी (free speech) में भरोसा नहीं है और कंपनी में काम करने वाले कर्मचारी अधिग्रहण के लिए एलन मस्क की 44 अरब डॉलर की डील से ‘नफरत’ करते हैं।

अमेरिका के धुर दक्षिणपंथी समूह वैरिटास ने ट्विटर के एक वरिष्ठ इंजीनियर का कथित वीडियो जारी किया है। इसमें ट्विटर के वरिष्ठ इंजीनियर सिरु मुरुगेशन मान रहे हैं कि कंपनी का वामपंथ के प्रति गहरा झुकाव है और दक्षिणपंथियों को खुलेआम सेंसर किया जाता है।

ट्विटर कार्यालय की राजनीति वामपंथी
मुरुगेशन को कैमरे के सामने यह कहते हुए कैद किया गया है कि कंपनी की कार्य संस्कृति बेहद वामपंथी है और उनके सहयोगी कर्मचारी टेस्ला के सीईओ एलन मस्क के ट्विटर के अधिग्रहण प्रस्ताव से नफरत, नफरत और नफरत करते हैं। मुरुगेशन का कहना है कि ट्विटर कार्यालय की राजनीति इतनी वामपंथी थी कि इस माइक्रो-ब्लॉगिंग साइट पर काम करने वाले लोगों को मौजूदा माहौल में काम करने के लिए अपने मूल विचारों को बदलना पड़ा।

यह पूछने पर कि उनके सहकर्मियों में मस्क की डील को लेकर क्या प्रतिक्रिया है? मुरुगेशन ने कहा- ‘उनका कहना था कि ऐसा होने पर यह हमारा आखिरी दिन होगा।’ यह भी कहा कि अप्रैल में मस्क के अधिग्रहण की प्रक्रिया शुरू होने के बाद से कंपनी में बहुत कुछ बदल गया है। कर्मचारी अपनी नौकरी के लिए चिंतित हैं, क्योंकि मस्क की कंपनियां ट्विटर के वामपंथी सोच के विपरीत अलग तरह से चलती हैं। मुरुगेशन ने कहा कि मस्क पूंजीवादी हैं और हम पूंजीवादी के रूप में काम नहीं कर रहे थे।

कई कर्मचारियों ने विद्रोह किया
मुरुगेशन ने कहा कि ट्विटर के कई कर्मचारियों ने खुले तौर पर मस्क के अधिग्रहण को विफल करने की कोशिश की। कई कर्मचारियों ने इसके खिलाफ विद्रोह किया। नौकरी छोड़ने का प्रयास किया। हमने बगावत को रोकने का प्रयास किया।

अभी अटकी हुई है मस्क की डील
ट्विटर को हाल ही में टेस्ला के सीईओ मस्क ने 44 अरब डॉलर अधिग्रहित करने का करार किया है। उनके अधिग्रहण प्रस्ताव को अभी ट्विटर के शेयरधारक की मंजूरी मिलना बाकी है। इस बीच, मस्क ने भी घोषणा की कि इस सोशल मीडिया साइट के अधिग्रहण की डील अभी अटकी हुई है।

मस्क ने भी की वामपंथी पूर्वाग्रह की शिकायत
मस्क ने खुद ट्विटर के वामपंथी पूर्वाग्रह को लेकर शिकायत की है। मस्क ने पूर्व में कहा था कि पूर्ववर्ती अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर प्रतिबंध लगाने का ट्विटर का फैसला एक गलती थी और अगर सोशल मीडिया कंपनी का उनका अधिग्रहण सफल होता है तो वह इस फैसले को पलटकर ट्रंप का ट्विटर अकाउंट बहाल करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.