ख़बरें राज्यों से

यूपी में हर साल होगी 12000 होमगार्डों की भर्ती

लखनऊ। प्रदेश में हर साल 12 हजार होमगार्ड स्वयंसेवकों की भर्ती का लक्ष्य रखा गया है। इस तरह चार साल में 48 हजार की भर्ती की जाएगी। इसमें 20 फीसदी पद महिलाओं के लिए आरक्षित होंगे। होमगार्ड विभाग ने अपनी कार्ययोजना में भर्तियों को भी शामिल किया गया है।

विभाग में होमगार्ड के कुल 1,18,348 पद स्वीकृत हैं, जिसमें से लगभग 34 हजार पद रिक्त हैं। अगले चार वर्षों में 15700 होमगार्ड रिटायर हो जाएंगे। हाल साल 12 हजार होमगार्ड्स की भर्ती में 20 फीसदी के हिसाब से पांच हजार पद महिलाओं लिए आरक्षित होंगे। विभाग ने अपनी छह माह की कार्ययोजना में होमगार्ड को ड्यूटी भत्ते के साथ एक दिन का साप्ताहिक अवकाश देने का प्रस्ताव भी शामिल किया है।

इसके अलावा होमगार्ड का आयुष्मान भारत योजना के तहत स्वास्थ्य बीमा कराने की भी योजना है। विभाग ने अपनी 100 दिनों की कार्ययोजना में महिला होमगार्ड को मातृत्व अवकाश देने का प्रस्ताव भी तैयार किया है।

गैर जिले में ड्यूटी पर मिलेगा ज्यादा भत्ता
विभाग ने अपनी 100 दिनों की कार्ययोजना में अंतर जनपदीय ड्यूटी के लिए भेजे जाने वाले होमगार्ड को प्रतिदिन 150 रुपये भत्ता देने का प्रस्ताव रखा है। पहले केवल 30 रुपये प्रतिदिन भत्ता दिया जाता था। विभाग ने माना कि किसी दूसरे जिले में मात्र 30 रुपये में रहने व खाने का खर्च पूरा होने की कल्पना भी संभव नहीं है। एक आकलन के अनुसार एक महीने में औसतन 10 हजार होमगार्ड अंतर जनपदीय ड्यूटी पर भेजे जाते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.