फेक न्यूज पोस्टमार्टम

दूरसंचार विभाग में रजिस्ट्रेशन शुल्क के तौर पर 15360 रु. की मांग, जानिए क्या है सच्चाई?

नई दिल्ली। शातिर लोग आजकल दूरसंचार विभाग (Department of telecommunications) के नाम से ठगी की वारदात को अंजाम देने में लगे हुए हैं। पहले दूरसंचार विभाग में नौकरी और सिक्योरिटी मनी, फिर 4जी/5जी टॉवर लगवाने का मैसेज भेजकर ठगी। वहीं अब रजिस्ट्रेशन चार्ज के बहाने 15,360 रुपए के भुगतान का एक लेटर सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसको लेकर लोगों से पीआईबी फैक्ट चेक (PIB Fact Check) ने सावधान रहने की अपील की है।

भारत सरकार के दूरसंचार विभाग की ओर से दावा करने वाला एक लेटर सोशल मीडिया साइटों पर पंजीकरण शुल्क के बहाने भुगतान की मांग कर रहा है। दूरसंचार विभाग (DoT) के नाम से जारी एक आवेदन प्रस्ताव में पंजीकरण शुल्क के बहाने ₹15,360 का भुगतान करने की मांग की जा रही है, जिसको लेकर पीबीआई फैक्ट चेक ने इसे फर्जी बताते हुए बताया कि यह दस्तावेज पूरी तरह से नकली है।

पीआईबी फैक्ट चेक ने वायरल लेटर को ट्वीट करते हुए लोगों को सतर्क किया है। साथ ही बताया कि दूरसंचार विभाग के नाम से जारी एक आवेदन प्रस्ताव, जिसमें पंजीकरण शुल्क (registration charge) के बहाने 15,360 रुपए के भुगतान की मांग की जा रही है। ️यह दस्तावेज फर्जी है। ऐसे की भी प्रस्ताव के बहकावे में नहीं आने की अपील करते हुए कहा कि ️अपनी व्यक्तिगत या कोई वित्तीय जानकारी कभी भी साझा ना करके धोखेबाजों से अपनी सुरक्षा करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.