ख़बरें राज्यों से

कौन हैं नागालैंड से भाजपा की पहली महिला सांसद फांगनोन कोन्याक? राज्यसभा के लिए चुनी गईं निर्विरोध

कोहिमा। भाजपा नेता फांगनोन कोन्याक को नागालैंड की राज्यसभा सीट से निर्विरोध चुना गया है, फांगनोन नागालैंड से राज्यसभा पहुंचने वाली पहली महिला होंगी। फांगनोन कोन्याक ने सोमवार सुबह नागालैंड के मुख्यमंत्री नीपियू रियो और बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष तेमजेन इमना की मौजूदगी में राज्यसभा के लिए नामांकन भरा।

कोन्याक सत्तारूढ़ यूनाइटेड डेमोक्रेटिक अलायंस (यूडीए) की सर्वसम्मति से उम्मीदवार चुनी गई थीं और वह संसद जाने वाली नगालैंड की पहली भाजपा सदस्य होंगी। 60 सदस्यीय विधानसभा में एनडीपीपी के 21 विधायक हैं, एनपीएफ के 25, भाजपा के 12 और दो निर्दलीय विधायक हैं। सभी ने सितंबर 2021 में यूडीए बनाने के लिए हाथ मिलाया था ताकि नगा राजनीतिक समस्या का शीघ्र समाधान किया जा सके।

नगा पीपुल्स फ्रंट (एनपीएफ)ने यूडीए का हिस्सा होने के बावजूद उम्मीदवार खड़ा करने का ‘दृढ़ संकल्प’ व्यक्त किया था लेकिन बाद में वह पीछे हट गया। शनिवार को एनपीएफ के अध्यक्ष शुरहोजेली लीज़ित्सु ने कार्यकारी अध्यक्ष और पूर्व गृह मंत्री थेनुचो तुनी को नामित करने पर विचार करने के लिए पार्टी विधायक दल को पत्र लिखा था।

कौन हैं फांगनोन कोन्याक?
फांगनोन नागालैंड में भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष हैं। कोन्याक समुदाय से ताल्लुक रखने वाली एस. फांगनोन नागालैंड में ही रहती हैं। उन्होंने होली क्रॉस सीनियर सेकेंड्री स्कूल दीमापुर से अपनी शुरुआती पढ़ाई की है। इसके बाद फांगनोन ने दिल्ली यूनिवर्सिटी से डिग्री हासिल की है। फांगनोन कोन्याक की छवि ऐसी युवा नेता के तौर पर है जो महिलाओं की आवाज उठाती हैं और उन्हें सशक्त करने की दिशा में काम करती हैं।

फांगनोन कोन्याक के बारे में कहा जाता है कि वो महिलाओं की आवाज को मुखर तौर पर उठाती हैं और समाज में महिलाओं की समानता की पैरोकार रही हैं। फांगनोन कोन्याक की उम्मीदवारी को सही बताते हुए नागालैंड के सीएम नेफ्यू रियो ने कहा कि ये बिलकुल सही फैसला है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.