मेरा स्वास्थ्य

कई देशों में कोरोना की नई लहर, भारत में 18+ को बूस्टर डोज देने पर विचार कर रही है सरकार

नई दिल्ली। दुनिया के कुछ देशों में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच भारत सरकार देश की वयस्क आबादी को वैक्सीन का बूस्टर डोज देने पर विचार कर रही है।

चीन, दक्षिण कोरिया और यूरोप समेत दुनिया भर के कई देशों में कोरोना के केसों में एक बार फिर से तेजी देखने को मिल रही है। इसके अलावा दक्षिण कोरिया में नए केसों का आंकड़ा हर दिन 6 लाख तक पहुंच रहा है। इसी कड़ी में देश के सभी वयस्कों को कोरोना की बूस्टर डोज लगाने का भी प्लान बनाया जा रहा है। रॉयटर्स ने सूत्रों के हवाले से यह जानकारी दी है।

भारत में अभी तक कोरोना वैक्सीन के बूस्टर डोज के लिए सिर्फ फ्रंटलाइन वर्कर और 60 वर्ष से अधिक आयु वाले नागरिक पात्र हैं। सरकारी केंद्रों में जाकर मुफ्त में या निजी अस्पतालों में भुगतान कर बूस्टर डोज ले सकते ह। इसके अलावा 12 साल से अधिक आयु के बच्चों को भी कोरोना वैक्सीन लगाई जाने लगी है। कई राज्यों में स्कूलों को खोला जा रहा है।

22 जून तक आएगी चौथी लहर
कानपुर आईआईटी ने अपनी स्टडी में भारत में 22 जून तक चौथी लहर शुरू होने का दावा किया है। अब तक देश में 180 करोड़ से ज्यादा कोरोना टीके लगाए जा चुके हैं। गौरतलब है कि बीचे कुछ महीनों में भारत समेत दुनिया की कई अर्थव्यवस्थाओं ने अच्छी रिकवरी की थी। ऐसे में यदि कोरोना की नई लहर आती है तो फिर हेल्थ के साथ ही मार्केट पर भी इसका असर देखने को मिलेगा और यह घातक स्थिति होगी। हालांकि माना जा रहा है कि अब आने वाली लहर पहले के मुकाबले कमजोर ही होगी। इसकी एक वजह बड़े पैमाने पर लोगों का टीकाकरण होना है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.