Uncategorized

गाजियाबाद: सेवानिवृत्त मेजर ने सांसद मेनका गांधी पर लगाया बदसलूकी का आरोप

साहिबाबाद। कौशांबी स्थित अंतरिक्ष अपार्टमेंट के एओए के महासचिव और सेवानिवृत्त मेजर ने सुल्तानपुर की सांसद और पीपुल फार एनिमल की संस्थापक मेनका गांधी पर बदसलूकी करने का आरोप लगाया है। सोसायटी में ही रह रही एक महिला के साथ चल रहे विवाद के बाद सांसद ने मेजर को फोन किया था। उन्होंने मेजर पर कुत्ते को पीटने का आरोप लगाया है।

मूल रूप से प्रयागराज निवासी सरस त्रिपाठी कौशांबी के अंतरिक्ष अपार्टमेंट में परिवार के साथ रहते हैं। उन्होंने कारगिल युद्ध में हिस्सा लिया था। वह कश्मीर के हालात पर दो पुस्तक भी लिख चुके हैं। वर्तमान में वह एओए के महासचिव हैं।

बुधवार दिन में मेनका गांधी का सरस त्रिपाठी के पास फोन आया था। सरस त्रिपाठी का कहना है कि सांसद ने बिना जांच किए उन पर सोसायटी में रहने वाली आशमां के कुत्ते को पीटने का आरोप लगाया है। जब उन्होंने आरोपों से इनकार किया तो सांसद ने महिला के बेडरूम के बाहर सीसीटीवी कैमरा लगाए जाने की बात कही जबकि सीसीटीवी कॉमन एरिया में लगा है और जो कई दिन पहले ही बंद कर दिया गया था। सरस त्रिपाठी ने कहा कि वह शुरू में कॉल रिकॉर्ड नहीं कर पाए, जिसमें उन्हें जेल भिजवाने की धमकी दी गई थी।

सेवानिवृत्त मेजर सरस त्रिपाठी ने कहा कि महिला की शिकायत पर बिना किसी जांच पड़ताल के सांसद ने उन्हें फोन किया और अभद्र भाषा का प्रयोग किया। मेजर ने पीएम और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मामले की शिकायत की है। मेजर ने बातचीत का ऑडियो और अपना वीडियो बनाकर फेसबुक पर पोस्ट किया है।

सरस त्रिपाठी का आरोप है कि सोसायटी में रहने वाली एक मुस्लिम महिला पर मेंटेनेंस के तीन लाख रुपये बकाया हैं। वह बकाया जमा करने के लिए नोटिस दे चुके हैं। कई बार पुलिस से शिकायत कर चुके हैं। काफी दिन पहले महिला ने पुलिस को लिखित में दिया था कि वह मेंटेनेंस की रकम जमा कर देगी। इसके बाद भी मेंटेनेंस जमा नहीं किया। महिला ने दो कुत्ते पाल रखे हैं। उन कुत्तों को खुला छोड़ दिया जाता है। कुत्ते लोगों को काटने को दौड़ते हैं। उन्होंने महिला से कुत्तों को बांधकर रखने को कहा था। इस पर महिला ने मेनका गांधी से शिकायत कर दी।

सरस त्रिपाठी ने कहा कि उनकी सोसायटी में कुछ दिन पहले 24 लोगों को नोटिस जारी किया था। इन लोगों ने लंबे समय से अपना मेंटेनेंस शुल्क जमा नहीं किया था। इनमें सभी ने मेंटेनेंस जमा कर दिया है। केवल चार लोग बाकी हैं। इसमें पहले फ्लोर पर रहने वाली आशमां भी शामिल हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि मेंटेनेंस से बचने के लिए वह पिछले कुछ दिनों से एओए के ऊपर तरह-तरह के आरोप लगा रही हैं।

वहीं दूसरी ओर पीएफए सदस्य आशमां का कहना है कि सेवानिवृत्त मेजर उन पर झूठा आरोप लगा रहे हैं। उन्होंने कुत्ते की पिटाई की है। उसकी फोटो मेरे पास है और उन्होंने मेरे बेडरूम की ओर अपनी बालकनी में सीसीटीवी कैमरा लगाया हुआ है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.