राष्ट्रीय

‘व्हाई आई किल्ड गांधी’ फिल्म की रिलीज़ पर रोक लगाने की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका

नई दिल्ली। महात्मा गांधी और गोडसे पर बनी ‘Why I Killed Gandhi’ के रिलीज पर रोक लगाने की मांग तेज हो गई है। इस फिल्म के रिलीज को रोकने के लिए इसके खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की है। याचिका में कहा गया है कि फिल्म को सेंसर बोर्ड की तरफ से मंजूरी नहीं मिली है, जिसके बावजूद इसे ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज किया जा रहा है।

30 जनवरी को महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर ओटीटी प्लेटफॉर्म ‘लाइमलाइट’ पर रिलीज होने वाली फिल्म ‘व्हाई आई किल्ड गांधी’ की शूटिंग पर रोक लगाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में एक रिट याचिका दायर की गई है। बार एंड बेंच की रिपोर्ट के अनुसार, गांधी और गोडसे के ऊपर बनी फिल्म के खिलाफ सिकंदर बहल ने अधिवक्ता अनुज भंडारी ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है। याचिकाकर्ता के अनुसार फिल्म में महात्मा गांधी की छवि को बदनाम करने की कोशिश की गई है। इस फिल्म में नाथूराम गोडसे का महिमामंडन किया गया है। इस फिल्म के माध्यम से नफरत फैलाने और शांति को भंग करने की कोशिश है। इसलिए इस फिल्म पर रोक लगा दी जाए। उनका इस फिल्म के रिलीज को लेकर सख्त आपत्ति है।

अपनी याचिका में अनुज भंडारी ने ये भी कहा है कि इस फिल्म को सेंसर बोर्ड ने पास नहीं किया था, जिसके बाद मेकर्स इसे ओटीटी पर रिलीज करने की तैयारी कर रहे हैं। इसे 30 जनवरी यानि महात्मा गांधी गांधी की पुण्यतिथि के दिन रिलीज किया जाना है। ये वही दिन है जब नाथूराम गोडसे ने महात्मा गांधी को गोली मारकर उनकी हत्या कर दी थी। ये फिल्म भी इसी विषय पर आधरित है।

बता दें कि फिल्म 2017 में ही रिलीज के लिए तैयार थी पर सेंसर बोर्ड से क्लियरेंस ना मिलने के कारण सिनेमाघरों में नहीं आ पाई। इस फिल्म में नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के नेता और सांसद अमोल कोल्हे नाथूराम गोडसे का किरदार निभा रहे हैं। फिल्म फिलहाल 30 जनवरी को ओटीटी पर रिलीज हो रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.