ख़बरें राज्यों से

नहीं होगा गठबंधन, चंद्रशेखर ने कहा- अखिलेश को दलितों की जरूरत नहीं

लखनऊ। यूपी चुनाव में सपा और आजाद पार्टी का गठबंधन नहीं होगा। लखनऊ में शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में चंद्रशेखर ने कहा कि अखिलेश यादव को दलितों की जरूरत नहीं है।

आजाद समाज पार्टी (आसपा) के संस्थापक अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद ने शनिवार को लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान चंद्रशेखर आजाद ने समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव पर जोरदार हमला बोला। चंद्रशेखर आजाद ने कहा कि मेरी अखिलेश यादव से पिछले 6 महीनों में काफी मुलाकातें हुईं हैं। इस बीच सकारात्मक बातें भी हुई लेकिन अंत समय में मुझे लगा कि अखिलेश यादव को दलितों की ज़रूरत नहीं है। वह इस गठबंधन में दलित नेताओं को नहीं चाहते। वह चाहते हैं कि दलित उनको वोट करें।

अखिलेश ने बहुजन समाज को अपमानित किया है। चंद्रशेखर ने कहा कि बहुजन समाज के अंदर एक डर था, हम कांशीराम को अपना नेता मानते हैं। चंद्रशेखर ने कहा कि अखिलेश को वंचित वर्ग की चिंता हो या न हो मुझे इसकी चिंता है, इसलिए पीठ दर्द के बावजूद मैं दो दिनों से लखनऊ में हूं। मैंने अखिलेश के जवाब का इंतजार किया लेकिन कोई जवाब नहीं मिला।चंद्रशेखर ने कहा कि अखिलेश यादव सामाजिक न्याय को नहीं समझ पाए हैं। चंद्रशेखर ने अखिलेश पर दलित मामलों में चुप रहने का आरोप लगाया। ये भी कहा कि अखिलेश यादव ने दलित लीडरशिप को नकार दिया है. उन्होंने मेरा अपमान किया। चंद्रशेखर ने कहा कि बीजेपी दलितों के घर खाना खाकर नाटक कर रही है. समाजवादी पार्टी भी उसी ट्रैक पर है।

इससे पहले दोनों पार्टी के बीच गठबंधन के कयास लग रहे थे, शुक्रवार को चंद्रशेखर ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट लिखा था। इसके बाद अखिलेश के साथ जाने की उम्मीद बढ़ गई थी। लिखा था कि – मजबूती और एकता के बगैर बीजेपी जैसी मायावी पार्टी को हराना आसान नहीं है। गठबंधन के अगुवा का दायित्व होता है कि वो सभी समाज के लोगों के प्रतिनिधित्व और सम्मान का ख्याल रखे। आज यूपी में दलित वर्ग अखिलेश यादव से इस जिम्मेदारी को निभाने की अपेक्षा रखता है। अखिलेश से उनकी मुलाकात जनेश्वर मिश्र ट्रस्ट में हुई थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *