ख़बरें राज्यों से

एलओसी पर घुसपैठ की कोशिश, सेना ने पाकिस्तान से कहा- ‘आतंकवादी मार दिया, शव ले जाओ’

श्रीनगर। भारतीय सेना ने जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पास भारत में घुसपैठ करने की कोशिश कर रहे एक पाकिस्तानी आतंकवादी को मार गिराया गया। आतंकी पाकिस्तानी नागरिक है, वह हथियारों, गोला-बारूद और जंगी सामान से लैस था। सेना ने कार्रवाई के दौरान गोला-बारूद बरामद किए हैं। साथ ही भारतीय सेना ने पाकिस्तानी को मारे गए व्यक्ति का शव वापस लेने के लिए कहा है।

जीओसी 28 डिवीजन के मेजर जनरल अभिजीत एस पेंढारकर ने कुपवाड़ा में एक मीडिया ब्रीफिंग में कहा, “नियंत्रण रेखा पर दोनों सेनाओं के बीच चल रहे युद्धविराम समझौते का पूरी तरह से उल्लंघन करते हुए एक जनवरी को कुपवाड़ा जिले के केरन सेक्टर में घुसपैठ या बैट (बॉर्डर एक्शन टीम) टीम द्वारा कार्रवाई का प्रयास किया गया था। नियंत्रण रेखा पर तैनात सैनिकों की त्वरित कार्रवाई ने इस प्रयास को विफल कर दिया और आतंकवादी का सफाया कर दिया, जिसे बाद में एक पाकिस्तानी नागरिक मोहम्मद शब्बीर मलिक के रूप में पहचाना गया।”

पेंढारकर ने कहा कि सैन्य अभियान महानिदेशालय (डीजीएमओ) के बीच हुए संघर्षविराम समझौते का पूरी तरह उल्लंघन करते हुए पठानी सूट और काली जैकेट पहने सशस्त्र घुसपैठिए को शनिवार दोपहर करीब 3 बजे नियंत्रण रेखा के पार पाकिस्तानी सेना के नियंत्रण वाले क्षेत्रों से घूमते हुए पाया गया।

उन्होंने कहा, “उन संभावित रास्तों पर पैनी नजर थी जिन्हें घुसपैठिए द्वारा अपनाया जा सकता था और शाम 4 बजे तक मूवमेंट को फॉलो किया। उपयुक्त समय पर घात लगाकर हमला किया गया और घुसपैठिए का सफाया कर दिया गया।

उन्होंने बताया कि मृतक के पास से एके-47 रायफल, कुछ दूसरे हथियार और 7 हैंड ग्रेनेड भी मिले। भारत ने हॉटलाइन के जरिए पाकिस्तान से अपने सैनिक की लाश ले जाने के लिए कहा है। पाकिस्तानी सेना ने इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। सेना ने कहा कि अप्रैल 2021 में इसी रास्ते से घुसपैठ की कोशिश हुई थी। जिसमें सेना ने नाकाम करते हुए पांच आतंकियों को मार गिराया था। पिछले चार दिनों में घाटी में 10 आतंकियों का काम तमाम किया गया है। जिसमें तीन पाकिस्तानी हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.