ख़बरें राज्यों से

रोहिणी कोर्ट ब्लास्ट: साइंटिस्ट ने रिमोट से किया था धमाका, पड़ोसी वकील को मारने की थी साजिश

नई दिल्ली। दिल्ली की रोहिणी अदालत के कोर्ट रूम 102 में हुए टिफिन बम ब्लास्ट के मामले की तफ्तीश में जुटी दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने डीआरडीओ के एक वैज्ञानिक को गिरफ्तार किया है। उसका मकसद अपने एक पड़ोसी को जान से मारने का था जो उसी कोर्ट में वकालत करता है।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना ने बताया कि इस मामले में कई टीमें जांच में जुटी थीं, जांच के दौरान 1000 गाड़ियों की पहचान की गई जो ब्लास्ट वाले दिन रोहिणी कोर्ट आईं थीं। कोर्ट में उस दिन जिन-जिन मामलों की सुनवाई होनी थी, उनकी भी जांच की गई फिर जिस काले रंग के बैग में बम रखा गया था, उस पर कंपनी का ‘लोगो’ था।जांच की गई और जानकारी जुटाई गई तो पता चला कि कंपनी मुंबई की है। इसका ऑफिस दिल्ली में भी है। फिर पता किया गया कि कौन-कौन उस कंपनी के बैग का इस्तेमाल कर रहे थे, यहां से मामले में पुलिस की जांच टीम को लीड मिली।

पुलिस कमिश्नर ने बताया कि बैग से कुछ फाइल और कोर्ट के पेपर भी मिले थे। ये फाइल कहां बनी, कौन बेचता और बनाता है, इसकी भी जांच की गई। इसके बाद शुक्रवार को भारत भूषण कटारिया को गिरफ्तार किया गया जो वैज्ञानिक है। उसके घर की तलाशी ली गई, इस दौरान कई ऐसे सामान मिले जिनका इस ब्लास्ट केस से लिंक मिला।

अस्थाना ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज में जांच के दौरान दिखा कि भारत भूषण कटारिया दो बैग लेकर कोर्ट पहुंचे थे। दिल्ली पुलिस कमिश्नर के मुताबिक, घटना वाले दिन आरोपी 2 बैग के साथ सुबह 9 बजकर 33 मिनट पर कोर्टरूम में दाखिल हुआ। तकरीबन एक घंटे बाद 10 बजकर 35 मिनट पर वह एक बैग कोर्ट रूम में ही छोड़कर बाहर निकल गया।

आरोपी शख्स दिल्ली के अशोक विहार इलाके में स्थित जिस घर में रहता है, उसी जगह नीचे वाले फ्लोर में उसका कथित दुश्मन वकील रहता है। दोनों के बीच पिछले कुछ समय से झगड़ा चल रहा था। इनके बीच झगड़े की शिकायत पुलिस में भी की जा चुकी है। पहली नजर में यह लग रहा है कि कटारिया ने वकील को लेकर रंजिश पाल रखी थी। इसी वजह से घटना को अंजाम दिया गया हालांकि इन सभी सवालों के जवाब स्पेशल सेल कुछ देर बाद आरोपी से पूछताछ पूरी होने के बाद ही देगी।

दरअसल इसी महीने 9 दिसंबर को दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में कोर्टरूम नंबर 102 के भीतर ब्लास्ट हुआ था जिसमें एक शख्स जख्मी हुआ था। इसके कारण पूरे कोर्ट परिसर में हड़कंप मच गया था। इसके बाद तब एक-एक कर धीरे-धीरे यह खुलासा हुआ कि एक बैग में विस्फोटक रखा था, जिसमें ब्लास्ट हुआ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *