कोरोना अपडेटमेरा गाज़ियाबाद

गाजियाबाद में पति-पत्नी ओमीक्रोन संक्रमित: रात में ही मुंबई जा रहे थे, एयरपोर्ट से लाया गया वापस घर

गाजियाबाद। गाजियाबाद। जनपद में कोरोना के नए वैरिएंट ओमीक्रॉन की दस्तक हो गई है। बुजुर्ग दंपती की जीनोम सीक्वेंसिंग की रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि हुई है। हालाँकि बुजुर्ग दंपति की कोरोना की रिपोर्ट नेगेटिव आई तो शुक्रवार रात को वापस मुंबई जा रहे थे। उनकी फ्लाइट शाम की थी लेकिन इसी बीच जीनोम सिक्वेंसिंग रिपोर्ट में ओमीक्रॉन की पुष्टि हो गई। जिसके बाद प्रशासन की कड़ी मशक्कत के बाद उन्हें दिल्ली एयरपोर्ट से वापस नेहरु नगर स्थित घर लाया गया। स्वास्थ्य विभाग ने पैनी नजर रखनी शुरू कर दी है।

मूल रूप से मुंबई (महाराष्ट्र) के रहने वाले बुजुर्ग दंपति गाजियाबाद के नेहरूनगर में अपने मौसा-मौसी से मिलने 29 नवंबर को पहुंचे थे। दंपति मुंबई से जयपुर होते हुए कार से गाजियाबाद लौटे थे। कोरोना से संबंधित लक्षण आने और ट्रैवल हिस्ट्री को ध्यान में रखते हुए दोनों के नमूने जांच के लिए भेजे गए थे। निजी लैब में जांच के बाद दोनों में कोरोना की पुष्टि हुई जिसके बाद होम आइसोलेशन में दोनों का इलाज किया गया।

वहीं 15 दिसंबर को दोनों की जाँच रिपोर्ट नेगेटिव आई तो वापस अपने घर जाने का फैसला किया और शुक्रवार को एयरपोर्ट पर पहुंच गए लेकिन विमान में बैठने से पहले ओमीक्रॉन की रिपोर्ट पाजिटिव आ गई। जब प्रशासन को दम्पत्ति के घर पर न होने की सूचना मिली तो आनन-फानन में पुलिस, प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी सक्रीय हुए और दिल्ली एयरपोर्ट पहुँच गएऔर बुजुर्ग दंपती को दिल्ली एयरपोर्ट से वापस नेहरूनगर लेकर आ गए।

प्रशासन के निर्देश पर नेहरूनगर मकान को सील कर दिया गया है। नेहरूनगर में अगले दस दिनों तक कोरोना जाच की जाएगी। वृंदा पैथालाजी लैब में इन दोनों की कोरोना जाच करने वाले स्टाफ की भी अब कोरोना जाच होगी। स्वास्थ्य विभाग ने संक्रमित मिलने पर दोनों की रिपोर्ट संलग्न करते हुए महाराष्ट्र और राजस्थान सरकार को पत्र भेजकर सूचना दे दी है। दोनों के संपर्क में आने वाले लोगों की कोरोना जाच कराए जाने का अनुरोध किया गया है।

जिला सर्विलास अधिकारी डा.आरके गुप्ता ने बताया कि अगले दस दिन तक पूरे क्षेत्र में कोरोना जाच की जाएगी। संक्त्रमित मिलने पर सभी के सैंपल जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए लखनऊ भेजे जाएंगे। बुजुर्ग दंपति के कॉन्टैक्ट में आने वाले करीब 35-40 लोगों के सैंपल भी जांच के लिए भेजे गए थे। इन सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई है। अधिकारी के अनुसार, बुजुर्ग दंपति में फिलहाल कोरोना का कोई लक्षण नहीं है। स्थानीय स्तर पर उनकी दूसरी जांच रिपोर्ट भी निगेटिव आ गई है। लेकिन नए वैरिएंट की पुष्टि होने से पूरी सतर्कता बरती जा रही है।

उनके अनुसार शुक्रवार को 234 विदेश से लौटे यात्रियों की सूची मिली है। जाच शुरू कर दी गई है। अब तक जीनोम सिक्वेंसिंग को 218 सैंपल भेजे गए हैं। दिसंबर में ही 26 सैंपल भेजे गए हैं। शुक्रवार को दुबई से आई एक युवती संक्रमित मिली है। यह युवती लोहियानगर की रहने वाली है।केन्या और रूस से आए दो चिकित्सक संक्त्रमित होने के बाद कड़ी निगरानी में कोविड अस्पतालों में अलग-अलग भर्ती हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *