खेल

सौरभ गांगुली और विराट कोहली आमने सामने, कोहली ने कहा- मैंने नहीं छोड़ी कप्तानी

नई दिल्ली। टीम इंडिया के साउथ अफ्रीकी दौरे से पहले कप्तानी को लेकर छिड़ा विवाद बढ़ता जा रहा है। उन्होंने कहा कि 8 दिसंबर को दक्षिण अफ्रीका के लिए भारत की टेस्ट टीम की घोषणा से सिर्फ डेढ़ घंटे पहले उन्हें वनडे टीम की कप्तानी से हटाए जाने की सूचना दी गई। इस बीच अब खेल मंत्री अनुराग ठाकुर का इस पूरे विवाद पर बयान सामने आया है।

भारतीय वनडे टीम की कप्तानी से हटाए जाने के बाद विराट कोहली पहली बार बुधवार को मीडिया के सामने आए। साउथ अफ्रीका दौरे से पहले कोहली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। कोहली ने कहा कि सब कुछ पहले से ही तय हो गया था और मुझसे कुछ पूछा ही नहीं गया। मेरे पास स्वीकार करने के अलावा कुछ नहीं बचा था। कोहली ने कहा कि मेरी बीसीसीआई से आराम करने को लेकर कोई बातचीत ही नहीं हुई थी। मुझसे मीटिंग से डेढ़ घंटा पहले संपर्क किया गया था। इस दौरान कोई और संपर्क नहीं किया गया था। चीफ सिलेक्टर ने मुझसे टेस्ट टीम के चयन को लेकर बात की थी। पांचों चयनकर्ताओं ने मुझे बताया कि मैं अब वनडे कप्तान नहीं हूं।

कोहली ने कहा, ‘मैं चयन के लिये उपलब्ध था और मैं हमेशा चयन के लिए उपलब्ध हूं। मैंने बीसीसीआई से आराम के लिये कभी संपर्क नहीं किया। मैं दक्षिण अफ्रीका में वनडे सीरीज के लिए उपलब्ध हूं और पहले भी उपलब्ध था।’ उन्होंने कहा, ‘यह उन लोगों से पूछा जाना चाहिए जिन्होंने झूठ लिखा है। इस मुद्दे पर बीसीसीआई के साथ मेरा संवाद नहीं हुआ है कि मैं आराम करना चाहता हूं।’

वहीं खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि खेल से बड़ा कोई नहीं है, खेल ही सर्वोत्तम है। किसी खिलाड़ी के बीच में क्या चल रहा है, मैं उसकी जानकारी नहीं दे सकता हूं। ये उनसे संबंधित एसोसिएशन या संस्थान की जिम्मेदारी है. यही सही होगा कि वो इसपर जानकारी दें। बता दें कि खुद अनुराग ठाकुर भी पूर्व में बीसीसीआई अध्यक्ष रह चुके हैं।

गौरतलब है कि बीसीसीआई अध्यक्ष सौरभ गांगुली ने कुछ दिन पहले एक वक्तव्य जारी कर कहा था कि वनडे कप्तानी को लेकर बातचीत की गई थी और चीफ सिलेक्टर ने भी इस मामले पर उनसे बात की थी। हालांकि, कोहली ने आज इन सारी बातों को खारिज कर दिया। ऐसे में गांगुली के दावे पर अब सवाल उठने लगे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *