ख़बरें राज्यों से

गाँव का ऐसा नाम कि बताने में आती थी शर्म, अब मिला नया नाम

देवघर। भारत में कई राज्यों के कुछ गांव और शहरों के अजीबोगरीब नाम हैं, ऐसा ही झारखंड का एक गाँव, जिनकी वजह से स्थानीय निवासियों को शर्मिंदगी का सामना करना पड़ता था। लेकिन लोगों ने अपने इलाके का नाम बदलने के लिए आवाज उठाई तो कामयाब हुए। अब राजस्व विभाग की वेबसाइट में गाँव का नया नाम दर्ज हो गया है।

झारखंड के देवघर जिले के मोहनपुर प्रखंड की बंका पंचायत स्थित गांव का नाम भों_डी था। इस वजह से छात्र-छात्राओं को स्कूल व कॉलेज में अपने गांव का नाम बताने में शर्म आती थी, गांव का नाम बताने पर मजाक भी उड़ाया जाने लगा था। जाति, आवासीय व आय प्रमाण पत्रों में देवघर के इस गांव का नाम देख लोग हंसने लगते थे। वर्षों से चलती आ रही इन परेशानियों को नई जेनरेशन के युवाओं ने बदलने का मन बनाया व पंचायत का सहारा लिया।

बंका पंचायत के ग्राम पंचायत प्रधान रंजीत कुमार यादव ने गांव के सारे सरकारी दस्तावेजों में नया नामकरण करने के लिए ग्राम सभा की बैठक बुलायी। इस बैठक में सर्वसम्मति से गांव का पुराना नाम बदलकर नया नाम मसूरिया रखने का प्रस्ताव पारित किया गया। सभी सरकारी कार्यालय समेत दस्तावेजों में विशेष तौर पर मसूरिया के नाम से गांव की इंट्री करायी गयी, अब राजस्व विभाग की वेबसाइट में भी मसूरिया गांव का नाम दर्ज हो गया है। प्रखंड कार्यालय से संचालित विकास योजना भी मसूरिया के नाम से हो रहा है।

बंका पंचायत के प्रधान रंजीत कुमार यादव कहते हैं कि पुराने पर्चे में गांव का नाम आपत्तिजनक था। आज इंटरनेट के दौर में छात्रों को अपने गांव का पुराना नाम लिखने पर परेशानियां हो रही थीं। विशेष कर लड़कियों को स्कूल व कॉलेज में गांव का नाम बताने में परेशानी होती थी। ग्राम सभा के माध्यम से सभी सरकारी दस्तावेजों में अब गांव का नया नाम मसूरिया कर दिया गया है, पीएम आवास योजना भी अब मसूरिया के नाम से आवंटित होता है। सभी प्रमाण पत्र भी मसूरिया के नाम से जारी हो रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.