अंतर्राष्ट्रीय

सऊदी अरब ने तबलीगी जमात पर लगाया प्रतिबंध

रियाद। सऊदी अरब ने तबलीगी जमात पर प्रतिबंध लगा दिया है। सरकार ने इस संगठन को समाज के लिए खतरा और आतंकवाद के प्रवेश द्वारों में से एक बताया है। तबलीगी जमात सुन्नी मुसलमानों का सबसे बड़ा समूह है।

सऊदी अरब ने तब्लीगी जमात को आतंकवाद का जन्मदाता बताकर प्रतिबंधित किया है। सऊदी अरब में इस्लामिक मामलों के मंत्री डॉ अब्दुल्लातिफ अल शेख ने ट्वीट कर जानकारी दी। उन्होंने मस्जिदों के इमामों के निर्देश दिया कि वे शुक्रवार को नमाज के लिए आने वाले लोगों को जमात की गतिविधियों के बारे में बताएं। सरकार ने मस्जिदों से इस संगठन के पथभ्रष्टता, विचलन और खतरे के बारे में बताने को कहा है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक 1926 में भारत में बना तबलीगी जमात एक सुन्नी इस्लामिक मिशनरी आंदोलन है जो मुसलमानों से सुन्नी इस्लाम के शुद्ध रूप में लौटने और धार्मिक रूप से चौकस रहने की अपील करता है। यह संगठन ड्रेसिंग, व्यक्तिगत व्यवहार और अनुष्ठानों की शुद्ध इस्लामी रूप की वकालत करता है।

एक अनुमान के मुताबिक दुनिया भर में तबलीगी जमात के 35-40 करोड़ सदस्य हैं। इनका दावा है कि इनका फोकस एरिया धर्म है और ये राजनीतिक गतिविधियों से बचते हैं। यूनाइटेड स्टेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ पीस ने तबलीगी जमात को एक इस्लामी पुनरुत्थानवादी संगठन के रूप में बताया है। कहा है कि आतंकवाद संबंध में कई बार इस संगठन का नाम सामने आया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *