ख़बरें राज्यों से

यूपी पुलिस ने युवक के शव को कंधा देकर खुद कराया अंतिम संस्कार, जानिए क्या है मामला

बरेली। यूपी के बरेली में पुलिस का मानवीय चेहरा सामने आया। पुलिस ने यहाँ एक मृतक युवक के शव को कंधा दिया और उसके अंतिम संस्कार का खर्च भी उठाया। इस दौरान कोतवाली व अन्य थानों की फोर्स भी तैनात रही। पुलिस के इस मानवीय चेहरे की इंटरनेट मीडिया पर सराहना भी की गई।

सुभाषनगर के तिलक कालोनी के रहने वाले नरेश की शुक्रवार को मौत हो गई थी। नरेश की मां पार्वती ने स्टेशन रोड स्थित पनीर दुकान के मालिक संजय गुप्ता व संजय गुप्ता के भाई के नाम हत्या और एससीएसटी एक्ट में कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। मृतक की मां के मुताबिक स्टेशन रोड स्थित एक होटल में काम करती हैं l जिसके पास ही संजय की पनीर की दुकान है l 18 नवंबर को उसका बेटा नरेश शाम के समय घरेलू सामान खरीदने के लिए उनसे रुपये लेने होटल आया था।

वह इंतजार करते हुए संजय की दुकान के पास पड़ी बेंच पर बैठ गया था l जिससे संजय नाराज हो गया और गाली गलौज के बाद उसे लोहे की रॉड से पीट दिया था। शोर सुनकर वह होटल से बाहर निकली और घायल बेटे को घर ले गई l गरीबी के चलते वह उसका इलाज ठीक से नहीं करा सकी थीं l

जिसके चलते शनिवार तड़के नरेश की हालत अचानक बिगड़ी और उसकी मौत हो गई। शिकायत पर पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया और आरोपित के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। मामले में जमकर हंगामा हुआ। स्वजन ने प्रदर्शन भी किया। इसी के बाद पुलिस अलर्ट मोड में रही।

रविवार को अंतिम संस्कार के समय सुभाषनगर कोतवाली के साथ अन्य थाने की फोर्स पहुंची, जिससे कोई भी असहज स्थिति न उत्पन्न हो। इस दौरान पता चला कि नरेश के न भाई हैं और न ही पिता हैं। घर में उसे कंधा देने वाला कोई नहीं था। इसी के बाद सुभाषनगर पुलिस ने मानवीय चेहरा दिखाते ही नरेश के अंतिम संस्कार की व्यवस्था कराई। खुद ही कंधा देकर उसे श्मशान घाट तक ले गए। फिर अंतिम संस्कार की प्रक्रिया पूरी कराई। पुलिस के इस कार्यशैली के बाद क्षेत्र में फैला असंतोष काफी हद तक दूर हो गया। क्षेत्र के लोगों ने पुलिसकर्मियों के कार्य की सराहना की।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *