Tuesday, November 30, 2021
ख़बरें राज्यों सेताजा खबर

गुरुग्राम में खुले में नमाज पढ़ने के मामले में बोले मंत्री विज- धार्मिक स्थलों के अंदर ही हों आयोजन

गुरुग्राम। हरियाणा के गुरुग्राम में खुले में नमाज पढ़ने के मामले में पहली बार हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि अगर किसी को भी कोई धार्मिक आयोजन करना है तो वो अपने धार्मिक स्थानों के अंदर ही करने चाहिए। साथ ही रास्तों पर बिना प्रशासन की इजाजत के ऐसे आयोजन करने बचना चाहिए।

रविवार को वह अंबाला जिले में मीडिया से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अगर किसी को भी कोई धार्मिक आयोजन करना है तो वो उसे धार्मिक स्थलों के अंदर ही करें। रास्तों पर बिना प्रशासन की इजाजत के ऐसे आयोजन करने से बचना चाहिए। गुरुग्राम में लगातार खुले में नमाज पढ़ने से आम लोगों को परेशानी हो रही है। पिछले एक महीने से विवाद हो रहा है। इसको लेकर तरह-तरह की बयानबाजी हो रही है। कुछ लोग सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाकर शांति भंग करना चाहते हैं लेकिन ऐसे लोगों के मंसूबों को कामयाब नहीं होने दिया जाएगा।

वहीं, आल इंडिया लायर्स यूनियन के सचिव विनोद कुमार भारद्धाज ने कहा कि यूनियन की गुरुग्राम इकाई इस बारे में चिंता करती है और उम्मीद करती है कि गुरुग्राम की शांतिप्रिय जनता प्रशासन से सहयोग करेंगी। कुछ तत्वों द्वारा अशांति फैलाने की योजना को कामयाब नहीं होने देंगे। देश की गंगा जमुनी संस्कृति को कतई खंडित नहीं होने दिया जाएगा। यूनियन के सभी सदस्य प्रशासन से किसी भी प्रकार का शांति बनाए रखने में सहयोग करने के प्रति तैयार है। उम्मीद करते है कि प्रशासन और पुलिस आपराधिक तत्वों से सख्ती से निपटेगी।

बता दें कि गुरुग्राम में 37 जगहों पर खुले में नमाज पढ़ी जा रही है। जिसका हिंदू संगठन तीन महीने से विरोध कर रहे हैं। बीते शुक्रवार को गुरुग्राम सेक्टर-12 के सीआरपीएफ चौक पर गोवर्धन पूजा की गई। दरअसल, इसी जगह पर हर जुमे को नमाज अदा की जाती थी। काफी दिन पहले ही हिंदू संगठनों ने इसी जगह पर गोवर्धन पूजा किए जाने की घोषणा कर दी थी।

वहीं, एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि मुसलमानों के प्रति ये सीधी नफरत है। ओवैसी ने कहा कि सप्ताह में एक बार 15-20 मिनट के लिए जुमे की नमाज अदा करना किसी को कैसे आहत कर सकता है?

आपका साथ– इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें। हमसे ट्विटर पर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए।

हमारा गाजियाबाद के व्हाट्सअप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

error: Content is protected !!