Friday, December 3, 2021
ख़बरें राज्यों सेताजा खबर

कैराना में पलायन कर वापस लौटे लोगों से मिले सीएम योगी

शामली। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शामली के कैराना पहुंचे हैं। योगी ने उन परिवारों से मुलाकात की, जो सांप्रदायिक दंगों के बाद यहां से पलायन कर गए थे और बीजेपी की सरकार में उन्हें वापस बसाया गया है। इसके अलावा योगी ने कई परियोजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन भी किया।

कैराना पहुंचने के बाद योगी ने ‘घर वापसी’ करने वाले परिवारों से ही मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने वापस लौटे परिवारों से मौजूदा कानून व्यवस्था की स्थिति जानी और कहा कि सरकार पूरी तरह से आप लोगों के साथ है, डरने की कोई बात नहीं है। इस दौरान कई लोगों ने कहा कि आपकी सरकार हमारे लिए वरदान साबित हुई है और हमें गुंडा राज से मुक्ति मिली है। यही नहीं कई व्यापारियों ने कहा कि 2017 में भाजपा की सरकार आने के बाद प्रॉपर्टी के दामों में भी इजाफा हो गया है।

सीएम से मुलाकात के दौरान एक शख्स ने कहा कि कैराना और शामली के बाजारों में जिन दुकानों को लेकर 25 लाख रुपये में बेच गए थे, आज उनकी कीमत 1 करोड़ रुपये तक हो गई है। कानून व्यवस्था सुधरने और सुरक्षा की गारंटी मिलने से ऐसा हुआ है। वहीं एक शख्स ने कहा कि अपराधी जब हाथ उठाकर सरेंडर करते हैं तो वे तस्वीरें हमें सुकून देती हैं। इस पर योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अपराधियों से निपटने और सही व्यवस्था देने के लिए ही भाजपा सरकार आई है। इस दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ ने एक बच्ची को अपने बगल बिठा लिया और उसे दुलारते दिखे।

सीएम योगी के साथ ही मौजूद भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने बच्ची से कहा, ‘डरना मत, बाबा के बगल में बैठी हो।’ इस पर सीएम योगी ने भी बच्ची से पूछा कि अब तो डर नहीं लग रहा है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस मुलाकात के दौरान लोगों को भरोसा दिलाया कि सरकार पूरी तरह से उनके साथ है।

परिवारों से मुलाकात के बाद सीएम योगी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि अब शामली जिले और कैराना कस्बे की स्थिति बदली है। उन्होंने कहा कि हमने तय किया है कि सपा शासन के दौरान हिंसा के शिकार लोगों को मुआवाजा दिया जाएगा और अपराधियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। कई मामलों में न्याय मिल भी चुका है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हमारी सरकार बिना किसी तुष्टीकरण के सबका साथ और सबका विकास की पीएम नरेंद्र मोदी की नीति पर आगे बढ़ती रहेगी। सीएम योगी ने कहा कि हम अपराधियों के खिलाफ जीरो टोलरेंस की नीति जारी रखेंगे।

सीएम ने कहा, “बहुत सारे परिवार वापस आए हैं, 2017 में जब मैं यहाँ आया था तो लोगों ने माँग की थी कि सुरक्षा की दृष्टि से यहाँ की चौकी को मजबूत किया जाए तथा पीएसी की एक बटालियन की स्थापना हो। चौकी के सुदृढ़ीकरण की कार्रवाई पहले ही चुकी थी और यहाँ पर पीएसी की बटालियन की स्थापना के लिए मैं खुद आया हूँ।”

वेस्ट यूपी की 71 सीटों में से 52 विधायक बीजेपी के
पश्चिम यूपी में 14 जिले आते हैं, इनमें 71 विधानसभा सीटें हैं। बीजेपी ने 2017 में इनमें से 51 सीटें जीती थीं। आरएलडी के अकेले विधायक सहेंद्र रमाला के भाजपा में शामिल होने के बाद यह संख्या 52 हो गई थी। बीजेपी के बाद समाजवादी पार्टी ने 16, कांग्रेस ने दो और बसपा ने एक सीट जीती थी।

आपका साथ– इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें। हमसे ट्विटर पर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए।

हमारा गाजियाबाद के व्हाट्सअप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

error: Content is protected !!