Friday, December 3, 2021
अपराधएनसीआरताजा खबर

पटाखे चलाने के विवाद में युवक की चाकुओं से गोदकर हत्या, पिता-पुत्र की हालत गंभीर

सोनीपत। हरियाणा के सोनीपत शहर के सैनीपुरा में दो युवकों व उनके पिता को चाकू से हमला कर घायल कर दिया गया। विवाद पटाखा छोड़ने को लेकर शुरू हुआ। इलाज के दौरान एक युवक की मौत हो गई। पुलिस ने मृतक के घायल पिता की शिकायत पर हत्या व जानलेवा हमले की रिपोर्ट दर्ज कर ली है। हत्या का आरोप दो सगे भाइयों सहित चार युवकों पर लगाया गया है। वारदात के बाद से सभी आरोपित फरार हैं।

सैनीपुरा मोहल्ला निवासी श्याम सिंह सैनी ने पुलिस को बताया कि उसके तीन बेटे हैं। बुधवार रात को छोटी दिवाली होने के चलते उसका बेटा सचिन घर के बाहर गली में पटाखा चला रहा था। पटाखा चलाने की आवाज सुनकर पड़ोसी मोहित उर्फ लीमा व उसका भाई जसवंत बाहर आए और झगड़ा करने लगे। इनके साथ दो अन्य युवक भी थे। वह पटाखा चलाने को लेकर विवाद करने लगे।

श्याम सिंह ने बताया कि शोर सुनकर वह और उसका दूसरा लड़का गौरव भी बाहर आ गए। हमने मोहित और उसके साथियों को समझाने का प्रयास किया। त्योहार होने के चलते झगड़ा नहीं करने को समझाया, लेकिन वह समझने को तैयार नहीं हुए। इसी दौरान मोहित व उसका भाई मनीष अपने साथियों के साथ मिलकर आक्रामक हो गए।

उन्होंने हमको पकड़कर चाकू मारने शुरू कर दिए। हमारे चिल्लाने पर आसपास के लोग मौके पर आए और हमको बचाया। इस पर आरोपी जान से मारने की धमकी देते हुए भाग गए। आसपास के लोगों ने हमको अस्पताल में भर्ती कराया और पुलिस को सूचना दी। अस्पताल में उपचार के दौरान घायल गौरव की मौत हो गई। वहीं गंभीर हालत में श्याम सिंह और सचिन को पीजीआई रेफर कर दिया गया।

पुलिस ने श्याम सिंह की शिकायत पर मोहित उर्फ लीमा और मनीष कुमार पुत्र जसवंत सिंह और इनके दो साथियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। श्याम सिंह ने पुलिस को बताया कि गौरव और सचिन का एक महीना पहले भी किसी बात को लेकर मोहित से विवाद हुआ था। उस समय मामला रफा-दफा करा दिया था।

आपका साथ– इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें। हमसे ट्विटर पर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए।

हमारा गाजियाबाद के व्हाट्सअप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें।

1 Comment

  • Still for commuting from Avantika,Ghaziabad to Delhi takes about one and half hours to two hours or more.Traffic jam still persisting.Shame to Administration. Due to this very reason Educated class is migrating from Ghaziabad to Noida ,Gurgaon or nearby place. One time will come Ghaziabad will be full of SHOPKEEPERS. Only helpless people are staying. Intelligentia is reducing to Zero in Ghaziabad. UP a great state.

Leave a Reply

error: Content is protected !!