Saturday, December 4, 2021
एनसीआरताजा खबर

ग्रेटर नोएडा में एक छात्र ने दूसरे छात्र को बुरी तरह पीटा, स्कूल ने नहीं दी परिजनों को जानकारी

ग्रेटर नोएडा। डेल्टा सेक्टर में स्थित एस्टर पब्लिक स्कूल में एक बच्चे के साथ बुरी तरह मारपीट की गई। मारपीट के दौरान नौवीं क्लास का छात्र गंभीर रूप से घायल हो गया। आरोप है कि इतना कुछ होने जाने के बावजूद स्कूल प्रबंधक और अध्यापकों ने इस मामले की जानकारी पीड़ित परिवार को नहीं दी। करीब 3 घंटे बाद जब पीड़ित बच्चे की हालत ज्यादा बिगड़ गई तो उसके पिता को घटना की जानकारी दी गई। पीड़ित पिता ने इस मामले में स्कूल प्रबंधक और आरोपी बच्चे के खिलाफ सूरजपुर थाने में शिकायत दी है।

पीड़ित व्यक्ति नीरज ने बताया कि उनका बेटा-बेटी आदित्य ग्रेटर नोएडा के सेक्टर डेल्टा-1 में स्थित एस्टर पब्लिक स्कूल में पढ़ता है। बेटा नौवीं क्लास का छात्र है। नीरज ने बताया कि मंगलवार को उनका बेटा स्कूल गया था। स्कूल में सुबह करीब 8:00 बजे उनके बेटे की एक दूसरे बच्चे से लड़ाई हो गई। इस लड़ाई के दौरान दूसरे बच्चे ने उनके बेटे आदित्य की नाक पर जानलेवा हमला किया। जिसमें उनके बेटे की नाक से काफी बुरी तरह खून बहने लगा। जब इस मामले की जानकारी उनकी बेटी को चली तो वह अपने भाई को देखने पहुंची और अपने परिवार को सूचना देने के लिए अध्यापक और प्रबंधक से फोन मांगा लेकिन किसी ने भी आदित्य की मारपीट की जानकारी उनके पिता को नहीं देने दी थी।

करीबन 11:00 बजे जब आदित्य की तबीयत खराब हो गई तो तब आदित्य के पिता नीरज को बुलाया गया। नीरज तुरंत अस्पताल पहुंचे और अपने बेटे को अस्पताल लेकर गए। अस्पताल के डॉक्टरों का कहना है कि आदित्य की नाक पर ज्यादा चोटें आई हैं। जिसके कारण काफी खून भी बहा है।

नीरज का कहना है कि जब उन्होंने स्कूल प्रबंधक से इस पूरे मामले की सीसीटीवी फुटेज मांगी तो स्कूल की तरफ से सीसीटीवी फुटेज देने के लिए इंकार कर दिया गया। स्कूल प्रबंधक दबाव बना रहा है कि समझौता कर ले लेकिन उनके बेटे की इतनी बुरी तरह मारपीट की गई। इसके अलावा 3 घंटे तक उनकी बेटे की हालत गंभीर बनी रही। उसके बावजूद भी एस्टर स्कूल प्रबंधक मामले को दबाने की कोशिश कर रहा है। नीरज का कहना है कि एस्टर पब्लिक स्कूल का यह बर्ताव अन्य बच्चों के लिए भी जानलेवा हो सकता है। इस कारण उन्होंने इस मामले की शिकायत सूरजपुर पुलिस को दी है।

वहीं दूसरी ओर स्कूल प्रबंधक का कहना है कि बच्चों में तो लड़ाई होती रहती हैं। गलती आदित्य ने की थी। हमने आदित्य को चोट लगने के बाद उसको प्राथमिक इलाज भी दिया था। स्कूल प्रबंधक ने साफ तौर पर कह दिया है कि बच्चों में लड़ाई होती रहती है। इस मामले में दोनों बच्चों के परिजनों को बुलाकर बातचीत भी करवाई गई है। हमारी टीम ने उनसे पूछा कि इस मामले में वह क्या कार्रवाई करेंगे तो उन्होंने बोला कि बच्चों पर क्या कार्रवाई होगी।

इस मामले में सूरजपुर थाना प्रभारी का कहना है कि पीड़ित बच्चे आदित्य की पिता ने मांगने की शिकायत दी है। यह मामला पुलिस के संज्ञान में है। क्योंकि आरोपी बच्चा नाबालिक है। इसलिए शुरुआत में दोनों परिवार को आमने-सामने बैठाकर बातचीत करवाई जाएगी लेकिन अगर मामला शांत नहीं हुआ तो यह मामला कोर्ट में जाएगा।

आपका साथ– इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें। हमसे ट्विटर पर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए।

हमारा गाजियाबाद के व्हाट्सअप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

error: Content is protected !!