Friday, December 3, 2021
ख़बरें राज्यों सेताजा खबर

मध्यप्रदेश के गृहमंत्री की चेतावनी के बाद सब्यसाची ने हटाया मंगलसूत्र वाला विज्ञापन

भोपाल। मशहूर फैशन एवं आभूषण डिजाइनर सब्यसाची मुखर्जी के मंगलसूत्र के विज्ञापन की देशभर में कड़ी आलोचना के बीच रविवार को मंगलसूत्र का विज्ञापन वापस ले लिया। उन्होंने कहा कि विज्ञापन से समाज के एक वर्ग को पहुंची पीड़ा पर वे बेहद दुखी हैं। सब्यसाची ने यह फैसला मध्यप्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा की चेतावनी के बाद लिया है। नरोत्तम मिश्रा ने उन्हें विज्ञापन हटाने के लिए 24 घंटे का अल्टीमेटम और उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस भेजने की धमकी दी थी।

मध्यप्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने मुखर्जी के मंगलसूत्र वाले विज्ञापन पर आपत्ति जताई थी। उन्होंने कहा है कि यह आपत्तिजनक है। इस विज्ञापन को देखकर मेरा मन बहुत आहत है। मैं व्यक्तिगत रूप से सब्यसाजी को 24 घंटे का अल्टीमेटम देता हूं। अगर वह मंगलसूत्र का विज्ञापन नहीं हटाते हैं, तो उनके खिलाफ केस दर्ज होगा। उनके खिलाफ कार्रवाई भी होगी। साथ ही अलग से पुलिस भी भेजी जाएगी। अगर उनमें हिम्मत तो दूसरे धर्म के खिलाफ करें।

सब्यसाची ने इंस्टाग्राम पर लिखा,‘‘ धरोहर और संस्कृति पर सतत चर्चा की पृष्ठभूमि में मंगलसूत्र अभियान का मकसद समावेशिता और सशक्तीकरण पर बातचीत करना था। इस अभियान का मकसद उत्सव मनाना था और हमें इस बात का गहरा दुख है कि इससे हमारे समाज के एक वर्ग को कष्ट पहुंचा है इसलिए हमने इस अभियान को वापस लेने का निर्णय लिया हैं।’

सब्यसाची मुखर्जी अपने नए मंगलसूत्र कलेक्शन की वजह से लोगों के निशाने पर आ गए थे।शादी के पवित्र बंधन के प्रतीक और सुहाग की निशानी माने जाने वाले मंगलसूत्र के नए कलेक्शन को लॉन्च करने के लिए जिस तरह के विज्ञापन का सहारा लिया है, उसकी वजह से वह ट्रोल हो रहे हैं।

विज्ञापन में एक महिला ब्रा और मंगलसूत्र पहने हुए है, वहीं पुरुष मॉडल भी शर्टलेस है।मंगलसूत्र को एक पवित्र ज्वेलरी मानी जाती है जिसे हिंदू महिलाएं शादी के बाद पहनती हैं।शादी के समय दूल्हा अपनी दुल्हन के गले में मंगलसूत्र पहना कर अपना जीवनसाथी बनाता है। पवित्र रिश्ते को नजर ना लगे इसलिए काले मोती भी डाले जाते हैं लेकिन सब्यसाची ने जिस तरह से पेश किया है वह सोशल मीडिया पर ट्रोल होने लगे थें।

आपका साथ– इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें। हमसे ट्विटर पर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए।

हमारा गाजियाबाद के व्हाट्सअप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

error: Content is protected !!