Friday, December 3, 2021
अपराधएनसीआरताजा खबर

नोएडा में पेचकस गैंग के चार सदस्य मुठभेड़ में गिरफ्तार

नोएडा। पुलिस ने एनसीआर में सक्रिय ‘पेचकस गैंग’ के चार सदस्यों को रविवार सुबह ग्रेटर नोएडा में हुई मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया। यह गैंग काफी समय से पुलिस के लिए चुनौती बना हुआ था। मुठभेड़ के दौरान पैरों में गोली लगने से चारों बदमाश घायल हो गए। गंभीर स्थिति को देखते हुए घायल बदमाशों को जिला अस्पताल से हायर सेंटर सफदरजंग दिल्ली के लिए रेफर कर दिया गया है। पिछले छह महीने से यह गिरोह पुलिस के लिए चुनौती बना हुआ था।

अपर पुलिस आयुक्त लव कुमार ने बताया कि पेचकस गिरोह को पकड़ने के लिए एडिशनल डीसीपी विशाल पांडेय व बीटा दो कोतवाली प्रभारी अनिल राजपूत की टीम ने रविवार सुबह साढ़े आठ बजे के करीब परीचौक के समीप घेराबंदी की। पुलिस को देखकर बदमाश फायरिग करते हुए भागे। पुलिस ने पीछा किया। चूहड़पुर अंडरपास के समीप जवाबी कार्रवाई में चार बदमाशों के पैर में गोली लगी। बदमाशों की पहचान आनंद वर्मा निवासी रेवाड़ी हरियाणा, शिव कुमार बुलंदशहर, बबलू वर्मा मायचा ग्रेटर नोएडा व दीपक के रूप में हुई है।

बदमाशों ने बीते सात अक्टूबर को रेयान गोलचक्कर के समीप से फैक्ट्री के जीएम मृगेंद्र कटियार का अपहरण कर उनसे लूटपाट की थी। एटीएम से रुपये निकलवाए थे। विरोध करने पर उन पर पेचकस से नौ वार किए थे। घटना के बाद पीड़ित इतना डर गए थे कि वह कुछ समय के लिए सदमे में चले गए थे। इन बदमाशों ने सूरजपुर, नॉलेज पार्क आदि क्षेत्रों में हुई लूट की कई घटनाओं में संलिप्त होने की बात स्वीकार की है। पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला है कि ये बदमाश इससे पहले मथुरा, राजस्थान, दिल्ली और हरियाणा में जेल जा चुके हैं।

लव कुमार ने बताया कि इन बदमाशों ने इस तरह की 50 से अधिक जघन्य वारदात को अंजाम देने की बात कबूल की है। पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने पेचकस गैंग के बदमाशों को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम को 50 हजार रुपये का इनाम देने की घोषणा की है। बदमाशों के कब्जे से लूट के एक लाख रुपये, घटना में इस्तेमाल होने वाली स्विफ्ट कार, लूट के एटीएम कार्ड, मोबाइल, पेचकस, हथौड़ी समेत कई अन्य औजार बरामद किए गए है।

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें। हमसे ट्विटर पर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए।

हमारा गाजियाबाद के व्हाट्सअप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

error: Content is protected !!