Saturday, December 4, 2021
अंतर्राष्ट्रीयताजा खबर

बांग्लादेश में अब ‘इस्कॉन मंदिर’ पर इस्लामिक कट्टरपंथियों का हमला, अब तक 4 लोगों की मौत

ढाका। बांग्लादेश में दुर्गा पंडालों पर हमले के बाद अब हिंदू मंदिरों को भी निशाना बनाया जा रहा है। शुक्रवार को धार्मिक उन्मादियों की भीड़ ने नोआखाली इलाके में इस्कॉन मंदिर पर हमला कर तोड़फोड़ की। हमलावरों ने मंदिर में मौजूद भक्तों के साथ भी मारपीट की है। हिंदू मंदिरों में तोड़फोड़ के मामले में अब तक 4 लोगों की मौत हो गई है और कई अन्‍य लोग घायल हैं।

इस्कॉन ने ट्वीट कर बताया कि इस हमले में मंदिर को काफी नुकसान हुआ है और एक श्रद्धालु की हालत गंभीर बनी हुई है। इस्कॉन मंदिर और भक्तों पर आज नोआखली, बांग्लादेश में भीड़ द्वारा हिंसक हमला किया गया। मंदिर को काफी नुकसान हुआ और एक भक्त की हालत गंभीर बनी हुई है। हम बांग्लादेश सरकार से सभी हिंदुओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने और अपराधियों को न्याय दिलाने का आह्वान करते हैं।

वहीं इससे पहले बांग्लादेश के चांदपुर के हाजीगंज उपजिला में बुधवार रात दुर्गा पूजा मंडपों पर हमले और पुलिस-भीड़ के बीच हुई झड़प के मामले में चांदपुर और चटगांव में कुल 16 लोगों को हिरासत में लिया गया है, जिसमें चार लोगों की मौत हो गई। पुलिसकर्मियों पर हमले के बाद स्थानीय प्रशासन ने हाजीगंज बाजार इलाके में धारा 144 लागू कर दी है।

स्‍थानीय लोगों ने बताया कि कट्टरपंथियों ने सुबह 11 बजे से 3 बजे के बीच में तीन बार चांदमोनी काली मंदिर पर हमला किया। उन्‍होंने राष्‍ट्रीय आपात सहायता हेल्‍पलाइन नंबर पर कई बार फोन किया लेकिन पुलिस नहीं आई। इस हिंसा के शिकार हुए अन्‍य सभी मंदिरों की प्रबंध समिति के लोगों ने भी इसी तरह के आरोप लगाए हैं। उन्‍होंने कहा कि सुबह 11 बजे का हमला जब विफल रहा तो हमलावर 3 बजे पूरी तैयारी के साथ आए और जमकर तोड़फोड़ की।

एक दिन पहले ही बांग्लादेश में कई दुर्गा पांडालों पर हमला कर तोड़फोड़ की गई थी। सोशल मीडिया पर यह खबर फैलाई गई कि कोमिला शहर में नानुआर दिघी झील के पास एक दुर्गा पूजा पंडाल में कुरान को कथित तौर पर अपवित्र किया गया था। जिसके बाद उन्मादियों की भीड़ ने चांदपुर के हाजीगंज, चट्टोग्राम के बंशखली और कॉक्स बाजार के पेकुआ में हिंदू मंदिरों और पांडालों पर हमला किया था।

हिंसा को लेकर प्रधानमंत्री शेख हसीना ने चेताया है कि हिंदू मंदिरों और दुर्गा पूजा स्थलों पर हमलों में शामिल किसी भी शख्स को बख्शा नहीं जाएगा। प्रधानमंत्री शेख हसीना ने दुर्गा पूजा के मौके पर ढाका के ढाकेश्वरी राष्ट्रीय मंदिर में वर्चुअली शामिल होकर हिंदू समुदाय से कहा, आपको इस देश का नागरिक माना जाता है। आप समान अधिकारों के साथ रहते हैं। आपको समान अधिकार हासिल रहेंगे। आप समान अधिकार के साथ अपने धर्म का पालन करेंगे और त्योहार मनाएंगे। हम यही चाहते हैं। यही हमारे बांग्लादेश की वास्तविक नीति और हमारा आदर्श है। मैं आपसे फिर आग्रह करती हूं कि आप कभी भी खुद को अल्पसंख्यक न समझें।

हसीना ने कहा, ये घटनाएं ऐसे समय में हुईं, जब देश पूरी गति से विकास कर रहा है। इन घटनाओं का मकसद देश के उत्थान में बाधा डालना व समस्याएं पैदा करना था। उन्होंने कहा, हिंदुओं से सबसे बड़े त्योहार पर एक हिंदू देवता के चरणों में कुरान की नकली तस्वीरें फैलाकर अशांति भड़काने में शामिल लोगों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

बांग्लादेश में दुर्गा पूजा पांडालों और मंदिरों पर हुए हमले को लेकर भारत ने भी प्रतिक्रिया दी है। भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा कि हमने बांग्लादेश में धार्मिक सभाओं पर हमलों से जुड़ी अप्रिय घटनाओं की कुछ परेशान करने वाली खबरें देखी हैं। बांग्लादेश सरकार ने पुलिस और सुरक्षाबलों की तैनाती सहित स्थिति पर नियंत्रण सुनिश्चित करने के लिए तुरंत प्रतिक्रिया दी है। हम यह भी समझते हैं कि बांग्लादेश में चल रहे दुर्गा पूजा उत्सव सरकारी एजेंसियों और निश्चित रूप से बड़ी संख्या में जनता के समर्थन से जारी है।

आपका साथ– इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें। हमसे ट्विटर पर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए।

हमारा गाजियाबाद के व्हाट्सअप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

error: Content is protected !!