Tuesday, November 30, 2021
ख़बरें राज्यों सेताजा खबर

कांग्रेस विधायक की पीएम मोदी से मांग- 500 और 2000 के नोट से हटाओ महात्मा गांधी की फोटो

राजस्थान। कांग्रेस विधायक ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गुरुवार को एक चिट्‌ठी लिखी है। विधायक ने प्रधानमंत्री को सुझाव दिया है कि 500 और 2000 रुपए के नोटों पर छपा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का चित्र हटाया दिया जाए। उन्होंने कहा है इन नोटों का भ्रष्टाचार में लिप्त शर्मनाक लोग रिश्वत की रकम में ज्यादा इस्तेमाल करते हैं। ऐसा होने से राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का अपमान होता है।

राजस्थान के पूर्व मंत्री और सांगोद से कांग्रेस विधायक भरत सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर बड़े नोटों से महात्मा गांधी की फोटो हटाने की मांग की है। उन्होंने पत्र में लिखा महात्मा गांधी सच्चाई के प्रतीक हैं और 500 एवं 2000 के नोट पर गांधी जी का चित्र होता है। इन्हीं का उपयोग सबसे अधिक रिश्वत लेनदेन में होता है। उन्होंने प्रधानमंत्री को सुझाव दिया है कि 500 और 2000 के नोट से गांधी जी तस्वीर हटाकर सिर्फ उनके चश्मे की फोटो इस्तेमाल की जाए या अशोक चक्र की फोटो लगाई जाए।

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 152 वीं वर्षगांठ और देश की 75वीं स्वतंत्रता के अवसर पर विधायक ने पीएम को यह चिट्‌ठी लिखी है। सांगोद के विधायक ने कहा कि गांधी की फोटो केवल 5, 10, 20, 50, 100 और 200 रुपए के नोट में होनी चाहिए, क्योंकि इनका अधिक इस्तेमाल गरीब करते हैं और गांधी ने जीवनभर बेसहारा लोगों के लिए काम किया।

विधायक ने कहा ऐसा करने से भ्रष्टाचार रुकेगा। भ्रष्टाचारी नोट लेने से डरेंगे। भ्रष्टाचारियों में प्रधानमंत्री की कही गई बात का डर रहेगा। वह चमकेंगे। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को तो बचाये। क्योंकि प्रधानमंत्री जी को नोट बंदी का पूरा अभ्यास है। ऐसे में नोटबन्दी या कुछ भी करें राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को मुक्त करें। क्योंकि प्रधानमंत्री ने कहा था ना खाऊंगा ना खाने दूंगा।

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें। हमसे ट्विटर पर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए।

हमारा गाजियाबाद के व्हाट्सअप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

error: Content is protected !!