Tuesday, November 30, 2021
ताजा खबरराष्ट्रीय

प्रियंका गांधी समेत कुल 11 लोगों के खिलाफ केस दर्ज, गेस्ट हाउस को ही बनाया अस्थायी जेल

सीतापुर। लखीमपुर हिंसा के बाद मचे बवाल के बीच किसानों से मिलने जा रहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को गिरफ्तार किया गया है। उनके लिए सीतापुर के पीएसी गेस्‍ट हाउस में अस्‍थाई जेल बनाई गई है। प्रियंका गांधी, हरियाणा से कांग्रेस के राज्‍यसभा सांसद दीपेन्‍द्र हुड्डा और कांग्रेस प्रदेश अध्‍यक्ष अजय लल्‍लू समेत कुल 11 लोगों के खिलाफ पुलिस ने धारा 151, 107, 116 के तहत केस दर्ज कर लिया है।

पुलिस का कहना है कि प्रियंका गांधी की गिरफ्तारी चार अक्‍टूबर की सुबह साढ़े चार बजे की गई थी। गिरफ्तारी के बाद उन्‍हें सीतापुर में पीएसी बटालियन के गेस्‍ट हाउस में रखा गया है। इस गेस्‍ट हाउस को उनके लिए अस्‍थाई जेल बनाया गया है। प्रियंका गांधी ने मंगलवार सुबह खुद को एक दिन से ज्यादा हिरासत में रखे जाने पर सवाल उठाए थे। उन्होंने ट्वीट कर कहा था, “नरेंद्र मोदी सर, आपकी सरकार ने मुझे बिना किसी आदेश और प्राथमिकी के पिछले 28 घंटे से हिरासत में रखा है। लेकिन किसानों को कुचलने वाले को अभी तक गिरफ्तार नहीं किया गया है।”

कांग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी ने एक वीडियो जारी कर कहा, ‘‘मोदी जी, मैंने सुना है कि आप आजादी का अमृत महोत्सव मनाने के लिए आप लखनऊ पहुंच रहे हैं। क्या आपने यह वीडियो देखा है? यह वीडियो आपकी सरकार के एक मंत्री के बेटे को किसानों को अपनी गाड़ी से कुचलते हुए दिखाता है। आप यह वीडियो देखिए और इस देश को बताइए कि इस मंत्री को बर्खास्त क्यों नहीं किया गया और इस लड़के को अभी तक गिरफ्तार क्यों नहीं किया गया है?’’

उन्होंने यह सवाल भी किया, ‘‘मेरे जैसे विपक्षी नेताओं को तो आपने बिना आदेश या बिना प्राथमिकी को गिरफ्तार किया है। मैं जानना चाहती हूं कि यह आदमी (मंत्री का पुत्र) आजाद क्यों हैं?’’

प्रियंका ने कहा, ‘‘आप (मोदी) आजादी के अमृत महोत्सव की महफिल में मंच पर बैठे रहेंगे तो यह याद करिये कि आजादी किसानों ने दिलवाई। आज भी देश की सुरक्षा और सीमाओं की रक्षा किसानों के बेटे करते हैं। किसान महीनों से त्रस्त हैं और अपनी आवाज उठा रहे हैं, लेकिन आप उसे नकार रहे हैं।’’

उधर प्रियंका गांधी की गिरफ्तारी और उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज किए जाने को लेकर कांग्रेस पार्टी ने अपना गुस्‍सा जताया है। पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदम्‍बरम ने मुखर विरोध करते हुए कहा कि यह पूरी तरह गैरकानूनी और बेहद शर्मनाक है। उन्‍होंने कहा कि प्रियंका गांधी को सर्योदय से पहले साढ़े चार बजे एक पुरुष पुलिस अधिकारी द्वारा गिरफ्तार किया गया। इसके बाद उन्‍हें अभी तक किसी ज्‍यूडिशियल मजिस्‍ट्रेट के सामने नहीं पेश किया गया। उन्‍होंने कहा कि बिल्‍कुल कानून के खिलाफ है।

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें। हमसे ट्विटर पर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए।

हमारा गाजियाबाद के व्हाट्सअप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

error: Content is protected !!