Monday, November 29, 2021
इवेंट्सएनसीआरख़बरें राज्यों सेताजा खबरनागरिक मुद्देमेरा गाज़ियाबादसंवरता गाज़ियाबाद

शोषण के खिलाफ उठाएं आवाज, पुलिस देगी साथ

पढ़िये दैनिक जागरण की ये खास खबर….

साहिबाबाद : इंदिरापुरम की शिप्रा सनसिटी सोसायटी में रविवार को नारी सुरक्षा, सम्मान व स्वावलंबन के लिए मिशन शक्ति कार्यक्रम आयोजित हुआ। इसमें इंदिरापुरम की विभिन्न सोसायटियों की महिलाओं ने पुलिस अधिकारियों से सवाल-जवाब किए। पुलिस अधीक्षक नगर द्वितीय ज्ञानेंद्र सिंह ने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा में पुलिस हमेशा तत्पर रहती है। हर शिकायत पर जांच कर कार्रवाई होती है। महिलाएं किसी भी तरह का शोषण न सहें। पुलिस से संपर्क करें। उनकी मदद के साथ अपराधियों को सजा भी दिलाई जाएगी।

मिशन शक्ति कार्यक्रम में भाजपा महानगर अध्यक्ष संजीव शर्मा, पुलिस क्षेत्राधिकारी इंदिरापुरम अभय मिश्र, इंदिरापुरम थाना प्रभारी निरीक्षक संजय पांडेय व मकनपुर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की प्रभारी डा.स्मृति शर्मा मुख्य अतिथि रहीं। राज स्कूल आफ डांस की छात्रा इशरत व संस्कृति ने गणेश स्तुति पर नृत्य प्रस्तुत कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। लायशा सिघल, स्नेहा छाबड़ा, कनिष्का पालीवाल ने तिलक लगाकर सभी का स्वागत किया। कार्यक्रम में इंदिरापुरम थाना प्रभारी संजय पांडेय ने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा पुलिस की प्राथमिकता है। वह बिना डरे पुलिस से अपनी शिकायत करें, उनकी मदद होगी। महिलाएं हर क्षेत्र में आगे बढ़ रही हैं। पुलिस के साथ मिलकर काम करें, तभी मिशन शक्ति सार्थक होगा।

कार्यक्रम में कुछ लोगों ने एफआइआर दर्ज कराने में होने वाली समस्याओं की शिकायत की। इस पर पुलिस अधिकारियों ने कहा कि गंभीर मामलों में तुरंत एफआइआर दर्ज की जाती है। जिन मामलों में जांच की जरूरत होती है, उन्हें जांच के बाद दर्ज किया जाता है, ताकि किसी निर्दोष पर कार्रवाई न हो। कार्यक्रम में भाजपा महानगर महामंत्री पप्पू पहलवान, वरिष्ठ भाजपा नेता वरुण झा, शिप्रा सन सिटी चौकी प्रभारी उपनिरीक्षक मंजू सिंह, डा.पुष्पा कौल, एओए अध्यक्ष विदा चावरे, रीता छाबड़ा, कविता पालीवाल, मंजरी, जूली, अल्का जैन, हेमा वर्मा, पिटू तोमर, निरुपमा सिन्हा, नीति सिन्हा आदि मौजूद थीं। पार्षद संजय सिंह व डा.अरुणिमा सिघल ने कार्यक्रम का संचालन किया। वर्जन.. मोबाइल पर आने वाली फेक काल से परेशानी होती है। कार्यक्रम में यह बताया गया कि काल ब्लाक करें। फोन पर बैंक या किसी अन्य निजी जानकारी साझा नहीं करनी है। यदि कोई अपराध होता है तो तुरंत परिवार व पुलिस को बताना है।

कार्यक्रम में यह सीख मिली कि अपराध होने पर छिपाना या शोषित होते रहना अनुचित है। इससे अपराधियों के हौसले बुलंद होते हैं। अपराध रोकने के लिए परिवार व पुलिस दोनों को बताएं। हम अन्य महिलाओं को भी जागरूक करेंगे, ताकि महिलाएं सुरक्षित हो सकें। साभार-दैनिक जागरण

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

मारा गाजियाबाद के व्हाट्सअप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

error: Content is protected !!