लखनऊ, जेएनएन। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण के बाद भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर उत्तर प्रदेश में नाइट कर्फ्यू जारी है। सरकार ने सोमवार को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर्व पर नाइट कर्फ्यू में छूट दी है। इस पर्व पर कोविड प्रोटोकॉल के साथ विशेष छूट दी गई है। मंगलवार रात से नाइट कर्फ्यू जारी हो जाएगा। प्रदेश में जन्माष्टमी धूमधाम से मनाने के लिए योगी आदित्यनाथ सरकार ने भी प्रतिबंधों की बेड़ियां तोड़ दी हैं।

सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर उत्तर प्रदेश शासन ने श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर्व पर रात्रि कर्फ्यू में विशेष छूट दी है। इसके क्रम में एक दिन के लिए रात्रिकालीन कर्फ्यू को हटाया गया है। प्रदेश में सोमवार रात कल रात 10 बजे से मंगलवार सुबह 6 बजे तक श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर्व पर नाइट कर्फ्यू में छूट रहेगी।

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी की ओर से इस संबंध में रविवार को सभी जिलों के पुलिस-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों आदेश जारी कर दिए गए। आदेश में कहा गया है कि विशेष परिस्थितियों में प्रदेश में जन्माष्टमी के अवसर पर आयोजित कार्यक्रमों में निर्धारित उपस्थिति की सीमा से छूट रहेगी। इसी तरह कोरोना संक्रमण की आशंका को देखते हुए अभी रात दस से सुबह छह बजे तक जो रात्रिकालीन कर्फ्यू लागू है, उसमें भी छूट रहेगी। शासन ने सभी पुलिस लाइन और कारागारों में जन्माष्टमी का पर्व भव्य रूप से मनाने का आदेश दिया है। साथ में जोड़ा है कि कार्यक्रमों में कोरोना प्रोटोकाल का पालन किया जाए। मास्क व सैनिटाइजर का इस्तेमाल अवश्य हो। उत्तर प्रदेश के गृह विभाग से इसका आदेश भी जारी होने के साथ सभी जिलों में भेज दिया गया है।  उत्तर प्रदेश के गृह विभाग से इसका आदेश भी जारी होने के साथ सभी जिलों में भेज दिया गया है। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि समस्त कारागार तथा पुलिस लाइन में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का पर्व भव्य रूप से भारतीय परम्परा के अनुसार मनाएं। इस दौरान कोविड प्रोटोकॉल का पालन करें। मास्क तथा सैनिटाइजर कर प्रयोग अनिवार्य हो।

सीएम ने दी बधाई, बोले-कोविड प्रोटोकॉल के साथ मनाएं श्रीकृष्ण जन्माष्टमी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेशवासियों को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं देते हुए कहा कि लोग कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का पर्व कोविड प्रोटोकॉल का पूर्ण पालन करते हुए मनाएं। बधाई संदेश में उन्होंने कहा कि भगवान श्रीकृष्ण का धरा पर अवतरण धर्म, सत्य और न्याय की स्थापना के लिए हुआ था। भगवान श्रीकृष्ण का जन्म धर्म, सत्य और न्याय की स्थापना एवं अधर्म, अन्याय तथा अत्याचार समाप्त करने की प्रेरणा देता है। भगवान श्रीकृष्ण ने श्रीमद्भगवद्गीता के माध्यम से ज्ञान, कर्म एवं भक्ति योग का जो संदेश दिया, उसकी प्रासंगिकता शाश्वत है। साभार-दैनिक जागरण

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

मारा गाजियाबाद के व्हाट्सअप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें।