Indian Railways: रेलवे में अब सीनियर सेक्शन इंजीनियर की होगी सीधी भर्ती, जल्‍द मांगे जाएंगे आवेदन

पढ़िये दैनिक जागरण की ये खास खबर….

रेलवे बोर्ड के डायरेक्टर (एन) एमएम राय ने छह अगस्त को पत्र जारी किया है। इसमें कहा है कि भर्ती बोर्ड सीधे सीनियर सेक्शन इंजीनियर के पद पर भर्ती करें। सभी जोन के महाप्रबंधक को आदेश द‍िए गए हैं।

मुरादाबाद। रेलवे ने डिप्लोमाधारकों के लिए सीनियर सेक्शन इंजीनियर के पद पर भर्ती के लिए रास्ता खोल दिया है। रेलवे भर्ती बोर्ड को आदेश दिया है कि सीनियर सेक्शन इंजीनियर के पद पर भर्ती की कार्रवाई करें। इसके बाद सुपरवाइजर के लिए अधिकारी बनना आसान हो जाएगा।

रेलवे में कई तकनीकी विभाग हैं। इसमें इंजीनियरिंग, यांत्रिक, विद्युत प्रमुख हैं। इस विभाग में कर्मचारियों से काम कराने के लिए सुपरवाइजर के तीन पद हैं। इसमें जूनियर इंजीनियर, सेक्शन इंजीनियर व सीनियर सेक्शन इंजीनियर हैं। इसमें भर्ती होने के लिए न्यूनतम योग्यता डिप्लोमा होती है। रेलवे में केवल सीधी भर्ती जूनियर इंजीनियर के पद पर होती है। न्यूनतम सात साल नौकरी करने के बाद पदोन्नत होकर सेक्शन इंजीनियर और बीस साल नौकरी करने के बाद सीनियर सेक्शन इंजीनियर बनते हैं और अधिकांश कर्मचारी इसी पद से सेवानिवृत हो जाते हैं। जूनियर इंजीनियर पद पर भर्ती होने वाले कर्मचारी अधिकारी के पद पर पदोन्नत नहीं हो पाते हैं।

अधिकारी के पद पर पदोन्नत होने के लिए सीनियर सेक्शन इंजीनियर होना अनिवार्य है, उसके बाद सहायक अभियंता के पद पर पदोन्‍नत‍ि के लिए विभागीय परीक्षा देनी पड़ती है। रेलवे बोर्ड ने डिप्लोमाधारकों के लिए अधिकारी बनने का रास्ता खोल दिया है। रेलवे बोर्ड के डायरेक्टर (एन) एमएम राय ने छह अगस्त को पत्र जारी किया है। इसमें कहा है कि भर्ती बोर्ड सीधे सीनियर सेक्शन इंजीनियर के पद पर भर्ती करें। सभी जोन के महाप्रबंधक को आदेश दिया है कि सीनियर सेक्शन इंजीनियर के रिक्त पदों पर भर्ती के लिए बोर्ड को पत्र भेजें। साथ ही जूनियर इंजीनियर के पद पर तैनात कर्मचारियों की पदोन्‍नत‍ि प्रभावित नहीं हो, इसलिए रिक्त पदों काे 50 फीसद पदोन्‍नत‍ि से और 50 फीसद सीधी भर्ती से भरा जाएगा।

रेलवे बोर्ड के इस पत्र के बाद भर्ती बोर्ड अब सीनियर सेक्शन इंजीनियर के लिए भी आवेदन मांगेगा। इस व्यवस्था के बाद डिप्लोमा के टाॅपर छात्र को सीनियर सेक्शन इंजीनियर बनने का मौका मिल पाएगा। सीनियर सेक्शन इंजीनियर के पद पर पांच साल नौकरी करने के बाद विभागीय परीक्षा देकर सहायक अभियंता के पद पर पद्दोन्नत हो पाएंगे। सेवानिवृत्त होेने तक पदोन्नत होकर ब्रांच आफिसर (संयुक्त निदेशक) बन सकते हैं। सीनियर सुपरवाइजर के पद रेलवे को कर्मचारी मिल पाएंगे। साभार-दैनिक जागरण

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

मारा गाजियाबाद के व्हाट्सअप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Discussion about this post

  • Trending
  • Comments
  • Latest

Recent News

error: Content is protected !!