दो-तिहाई भारतीयों में एंटीबॉडी, 40 करोड़ को अब भी Coronavirus का खतरा: सरकार

पढ़िये जी न्यूज की ये खास खबर….

नई दिल्ली। एक सर्वे के मुताबिक करीब 40 करोड़ लोगों को अब भी कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण का खतरा है, जबकि छह साल से अधिक उम्र की देश की आबादी के दो तिहाई हिस्से में SARS-COV-2 एंटीबॉडी पाई गई है। सरकार ने कहा कि ICMR के चौथे राष्ट्रीय कोविड सीरो सर्वे (covid sero survey) के नतीजों से उम्मीद की किरण नजर आ रही है, लेकिन ढिलाई की कोई जगह नहीं है और कोविड से जुड़े नियमों का अनुपालन करना होगा।

एक तिहाई आबादी को अभी भी खतरा

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि हालिया राष्ट्रीय सीरो सर्वे (covid sero survey) में दो तिहाई या छह वर्ष से अधिक आयु की भारत की 67.6 प्रतिशत आबादी में SARC-COV-2 एंटीबॉडी पाई गई है।

अधिकारी ने कहा कि एक तिहाई आबादी में यह एंटीबॉडी नहीं है, जिसका मतलब है कि करीब 40 करोड़ लोगों को अब भी कोरोना वायरस संक्रमण का खतरा है। सरकार के मुताबिक सर्वेक्षण में शामिल किये गये स्वास्थ्य कर्मियों में 85 प्रतिशत में SARS-COV-2 के खिलाफ एंटीबॉडी है और स्वास्थ्य कर्मियों में 10 प्रतिशत का अब तक टीकाकरण नहीं हुआ है।

स्कूल खोले जाने को लेकर कही ये बात

सर्वे में 28,975 आम आदमी और 7,252 स्वास्थ्यकर्मियों को शामिल किया गया था। चौथे दौर का सर्वे 21 राज्यों में 70 जिलों में किया गया, जहां पिछले तीन दौर का सर्वे भी किया गया था। सरकार ने Covid-19 से जुड़े नियमों का पालन करने पर जोर देते हुए कहा कि सामाजिक, धार्मिक और राजनीतिक समागम से दूर रहना चाहिए और अनावश्यक यात्राएं टालनी चाहिए। सरकार ने कहा, ‘पूरी तरह से टीकाकरण कराने के बाद ही यात्रा करनी चाहिए।’ ICMR ने यह सुझाव भी दिया कि प्राइमरी स्कूलों को पहले खोलना विवेकपूर्ण होगा क्योंकि बच्चे वायरस संक्रमण से कहीं बेहतर निपट सकते हैं।

साभार-जी न्यूज

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स मेंलिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

 

Discussion about this post

  • Trending
  • Comments
  • Latest

Recent News

error: Content is protected !!