Tuesday, November 30, 2021
एनसीआरख़बरें राज्यों सेताजा खबरनागरिक मुद्देराष्ट्रीयरियल स्टेटविशेष रिपोर्ट

गाजियाबाद की घूकना कॉलोनी में 17 दिन से नहीं मिल पा रहा पीने का पानी, लोगों ने दी चेतावनी

पढ़िए  नवभारत टाइम्स की ये खबर…

गाजियाबाद की घूकना कॉलोनी में पिछले 17 दिन से लोगों को पीने का पानी उपलब्ध नहीं हो पा रहा है। बार-बार लोगों की शिकायत के बाद भी नगर निगम का इस तरफ कोई ध्यान नहीं है। जिसके कारण लोगों में बेहद गुस्सा भरा हुआ है। अब लोगों ने चेतावनी दी है। कि नगर निगम को लोगों का गुस्सा झेलना पड़ सकता है।

हाइलाइट्स:

  • भीषण गर्मी के बाद भी गाजियाबाद के वार्ड नंबर 13 की घूकना कॉलोनी में लोगों को पिछले 17 दिन से पीने का पानी नहीं मिल पा रहा है
  • स्थानीय लोगों का कहना है कि काफी प्रयास के बाद भी नगर निगम के अधिकारियों का इस तरफ कोई ध्यान नहीं है
  • अब लोगों के सब्र का बांध टूटता जा रहा है, स्थानीय लोगों में नगर निगम के खिलाफ काफी रोष है
  • स्थानीय निवासी विशाल कुमार का आरोप है कि घूकना में जलकल द्वारा लगाए गए सरकारी नल खराब पड़े हुए हैं

तेजेश चौहान, गाजियाबाद
भीषण गर्मी के बाद भी गाजियाबाद के वार्ड नंबर 13 की घूकना कॉलोनी में लोगों को पिछले 17 दिन से पीने का पानी नहीं मिल पा रहा है। स्थानीय लोगों का कहना है कि काफी प्रयास के बाद भी नगर निगम के अधिकारियों का इस तरफ कोई ध्यान नहीं है। अब लोगों के सब्र का बांध टूटता जा रहा है। स्थानीय लोगों में नगर निगम के खिलाफ काफी रोष है।

पिछले 17 दिन से नहीं मिल पा रहा पीने का पानी
कॉलोनी में रहने वाले विशाल कुमार और कपिल ने बताया कि कॉलोनी में पिछले 17 दिन से लोगों को पानी उपलब्ध नहीं हो पा रहा है। पानी की सप्लाई पूरी तरह बाधित है काफी प्रयास के बाद भी यहां जो मोटर पंप लगाया जा रहा है। वह महज 10 एचपी का लगाया जा रहा है जबकि यहां जितनी आबादी है। उसके हिसाब से 30 एचपी का मोटर पम्प कि यहां आवश्यकता है। लोगों का कहना है कि इसके बाद भी यहां की समस्या इसी तरह बरकरार रहेगी। क्योंकि कम पावर का मोटर पंप ऊपर के मकानों में पानी की सप्लाई नहीं कर पाएगा। इसलिए लोगों में गुस्सा भरा हुआ है। गुस्साए लोगों ने अब नगर निगमअधिकारियों को चेतावनी दी है कि यदि पानी आपूर्ति का जल्द समाधान नहीं हुआ तो लोगों का गुस्सा झेलना पड़ सकता है।

परेशानी देख जीडीए के AE ने कराई अस्थाई व्यवस्था
स्थानीय निवासी विशाल कुमार का आरोप है कि घूकना में जलकल द्वारा लगाए गए सरकारी नल खराब पड़े हुए हैं। इन्हें ठीक कराने के लिए कई बार नगर निगम अधिकारियों को शिकायत दी गई। लेकिन अभी तक पूर्ण रूप से इनको ठीक नहीं किया गया है। लोगों की मांग है कि घूकना गांव में जगह-जगह खराब पड़े सरकारी नलों का सर्वे कराने के बाद उनकी मरम्मत की कराई जाए और जिन स्थानों पर सरकारी नल ठीक नहीं हो सकते तो उनकी जगह पर नए-नल लगवाए जाएं। स्थानीय निवासियों ने पानी की समस्या को लेकर जीडीए से भी व्यवस्था कराने की मांग की थी।जिस पर AE अजीत कुमार ने मानवता दिखाते हुए अपने कार्य क्षेत्र से बाहर का इलाका होने के बावजूद भी घूकना गांव में पानी का टैंकर भेज कर लोगों को आपूर्ति दिलाई है। साभार-नवभारत टाइम्स

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

error: Content is protected !!