पर्यावरणमौसमराष्ट्रीय

तूफान से पहले UP में बदला मौसम:’यास’ ने गर्मी की तपिश कम की, अगले तीन दिनों में 26 जिलों में बूंदाबांदी और तूफान आने की संभावना

पढ़िये दैनिक भास्कर की ये रिपोर्ट 

पश्चिम बंगाल-ओडिशा में तबाही मचा रहे यास चक्रवात का असर उत्तर प्रदेश में दिखने लगा है। राजधानी लखनऊ सहित राज्य के 26 जिलों में मौसम बदल गया है। आसमान में बादल हैं। तेज हवाएं चल रही हैं। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि तूफान के असर से शनिवार तक ऐसा ही मौसम रहेगा। शुक्रवार से कुछ स्थानों पर हल्की बारिश बूंदाबांदी भी हो सकती हैं।

इसलिए फिर बदला मौसम
मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता के अनुसार बंगाल‚ उड़ीसा के तटवर्ती इलाकों से टकराए यास तूफान की दिशा बदलने से अब उसका प्रभाव नगर में नगण्य रह गया है। रात में आए बादलों से न्यूनतम तापमान बढ़कर तो अधिकतम तापमान में गिरावट दर्ज हुई है। मौसम वैज्ञानिक ड़ॉ. एसएन पांडेय सुनील ने बताया कि मंगलवार से आरंभ हुए नौतपा पर यास तूफान हावी रहा‚ जिससे नौतपा का आरंभ भी 42 डिग्री सेल्सियस तापमान से शुरू नहीं हो सका। आगे भी नौतपा का प्रभाव अधिक बढ़ने की उम्मीद नहीं है‚ क्योंकि अब दो दिन तक यास के प्रभाव से बादल रहेंगे‚ कहीं-कहीं बूंदाबांदी भी संभव है। लिहाजा‚ नौतपा इस वर्ष लोगों को परेशान नहीं कर पाएगा।

इन जिलों में है तूफान का खतरा
मौसम विभाग की ओर से उप्र के पश्चिम क्षेत्र में स्थित मुरादाबाद, बिजनौर, अमरोहा, संभल, बदायूं, कासगंज जिलों को अलर्ट पर रहने को चेताया गया है। इसी तरह पूर्वांचल में आने वाले जिले सुल्तानपुर, जौनपुर, अंबेडकरनगर, आजमगढ़, मऊ, गाजीपुर, बलिया, देवरिया, संत कबीर नगर, महराजगंज, गोंडा, श्रावस्ती, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर, बस्ती और कुशीनगर जनपद को अलर्ट किया गया है। इसके अलावा बहराइच, बाराबंकी, अयोध्या, अमेठी जिले के लिए चेतावनी मौसम विभाग द्वारा जारी की गई है।

 

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.