Sunday, November 28, 2021
ख़बरें राज्यों सेताजा खबरमेरा गाज़ियाबाद

यूरोपियन ट्रेन कंट्रोल सिस्टम से लैस होगा दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ रैपिड रेल कॉरिडोर

दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ रैपिड रेल कॉरिडोर आधुनिक सिग्नलिंग सिस्टम से लैस किया जाएगा। ऑस्ट्रेलिया, ताईवान, दक्षिण कोरिया एवं सऊदी अरब के सबसे बेहतर ट्रेन कंट्रोल सिस्टम की तरह ही इस ट्रैक पर इसी तकनीक का इस्तेमाल होगा।

कॉरिडोर के सिग्नलिंग, ट्रेन कंट्रोल एवं टेलीकम्युनिकेशन सिस्टम के डिजाइन, आपूर्ति एवं इंस्टॉलेशन पर करीब 910 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। इसके लिए टेंडर जारी कर दिया गया है।

दिल्ली-मेरठ के बीच तैयार हो रहे रैपिड रेल कॉरिडोर को विदेशों की तर्ज पर सिग्नलिंग सिस्टम से लैस किया जाएगा। इसका टेंडर 12 हजार हॉर्स पावर का भारतीय रेलवे के लिए विद्युत इंजन तैयार करने वाली कंपनी एल्सटॉम को दिया गया है। इसमें सिग्नलिंग एवं ट्रेन कंट्रोल, सुपरविजन, प्लेटफॉर्म स्क्रीन डोर्स एवं टेलीकम्युनिकेशन सिस्टम का डिजाइन, आपूर्ति, टेस्टिंग एवं कमिशनिंग शामिल होगी।

यह भारत की पहली ऐसी लाइन होगी, जहां यूरोपियन ट्रेन कंट्रोल सिस्टम (ईटीसीएस) हाईब्रिड लेवल-3 सिग्नलिंग सिस्टम का इस्तेमाल किया जाएगा। यूरोप के रेल ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम (ईआरटीएमएस) का प्रमुख सिग्नलिंग एवं ट्रेन कंट्रोल कंपोनेंट है।

एल्सटॉम एशिया पैसिफिक के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट के अनुसार, फ्यूचरप्रूफ सिग्नलिंग सिस्टम के साथ भारत की पहली रेल लाइन स्थापित की जाएगी। यात्रियों को ट्रेन बदलते वक्त दिक्कत नहीं हो, इसके लिए अलग से कॉरिडोर तैयार किया जाएगा, जिससे यात्रियों के लिए बेहतर आवागमन सुनिश्चित हो सकेगा। इस सिग्नलिंग सिस्टम का फायदा यह भी होगा कि ट्रेन ज्यादा से ज्यादा फेरे लगाएगी। इससे यात्रियों के  इंतजार करने के समय में कमी आएगी।

डिजिटल इंटरलॉकिंग व ऑटोमैटिक ट्रेन ऑपरेशन (एटीओ) की मदद ली जाएगी। ईटीसीएस हाईब्रिड लेवल-3 रेडियो-बेस्ड सिग्नलिंग सिस्टम के माध्यम से लगातार ट्रेन नियंत्रण व सुपरविजन किया जाएगा। यह दुनिया का सबसे प्रभावशाली ट्रेन कंट्रोल सिस्टम है, जो यातायात की क्षमता, समय की पाबंदी, विश्वसनीयता, सुरक्षा, रखरखाव के खर्च एवं ऊर्जा की बचत के मामले में बेहतर है। यह सिस्टम ट्रेनों को पटरियों के किनारों पर लगे सिग्नल्स के बिना तेज स्पीड में चलने में समर्थ होता है। साभार-अमर उजाला

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

error: Content is protected !!