Tuesday, November 30, 2021
ताजा खबरमेरा गाज़ियाबाद

गाजियाबाद उद्यमियों की समस्याओं का हो नियमित निस्तारण, दिए सख्त निर्देश-मुख्य विकास अधिकारी अस्मिता लाल

गाजियाबाद मुख्य विकास अधिकारी अस्मिता लाल की अध्यक्षता में जिला स्तरीय उद्योग बंधु की बैठक कलेक्ट्रेट के महात्मा गांधी सभागार में आयोजित हुई। बैठक में संयुक्त आयुक्त उद्योग, बीरेंद्र कुमार द्वारा अवगत कराया गया कि नगर निगम गाजियाबाद से संबंधित प्रकरणों पर पूर्व में नगर आयुक्त गाजियाबाद की अध्यक्षता में बैठक की जा चुकी है एवं प्रत्येक माह नियमित रूप से नगर निगम से जुड़ी समस्याओं पर बैठक की जाती है।

जिस पर मुख्य विकास अधिकारी द्वारा निर्देशित किया गया कि इसका नियमित अनुपालन एवं अनुश्रवण किया जाए साथ ही गाजियाबाद विकास प्राधिकरण से संबंधित प्रकरणों पर भी पृथक से बैठक आयोजित की जाए। गत बैठक के लंबित प्रकरणों पर चर्चा करते हुए मुख्य विकास अधिकारी द्वारा निर्देश दिए गए कि ट्रोनिका सिटी में विभाग की ओर से गार्ड उपलब्ध कराए जाने संबंधी प्रकरण पर जिलाधिकारी की ओर से प्रबंध निदेशक, उत्तर प्रदेश राज्य औद्योगिक विकास प्राधिकरण कानपुर को पत्र प्रेषित किया जाए।

उन्होंने बैठक में उपस्थित पुलिस अधीक्षक नगर तृतीय को निर्देशित किया गया कि ट्रोनिका सिटी में कुल कितनी पेट्रोलिंग बढ़ाई गई है, के संबंध में आख्या उपलब्ध कराएं। सौर ऊर्जा मार्ग साहिबाबाद पर स्थित ब्रज विहार नाले की पुलिया के निर्माण के प्रस्ताव के संबंध में अधीक्षण अभियंता, विद्युत नगरीय वितरण खंड गाजियाबाद को निर्देश दिए कि उनके द्वारा संबंधित विद्युत लाइन को शिफ्ट किए जाने का जो प्रस्ताव प्रबंध निदेशक, उत्तर प्रदेश पावर कारपोरेशन लिमिटेड मेरठ को भेजा गया है, उसकी एक प्रति संयुक्त आयुक्त उद्योग को उपलब्ध कराई जाए। साथ ही अभी तक औद्योगिक क्षेत्रों एवं औद्योगिक इकाइयों के जो भी प्रकरण प्रबंध निदेशक पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के स्तर पर लंबित हैं, उनकी सूची तथा विवरण संयुक्त आयुक्त उद्योग को उपलब्ध करा दिया जाए।

ट्रोनिका सिटी औद्योगिक क्षेत्र में बसई ड्रेन से संबंधित प्रस्ताव के संबंध में अवगत कराया गया कि उक्त कार्य हेतु टेंडर निर्गत किया जा चुका है, जिसके अंतर्गत कार्य भी प्रारंभ करा दिया गया है। ट्रोनिका सिटी में एसटीपी का पानी औद्योगिक इकाइयों को उपलब्ध कराए जाने के संबंध में मुख्य विकास अधिकारी द्वारा निर्देश दिए गए कि 01 सप्ताह के अंदर अद्यतन स्थिति उपलब्ध कराई जाए। मनोहर लाल हीरा लाल लिमिटेड द्वारा विद्युत ट्रिपिंग की समस्या के संबंध में मुख्य विकास अधिकारी द्वारा अधीक्षण अभियंता विद्युत को निर्देश दिए गए कि वह एनसीआरटीसी की टीम के साथ संयुक्त निरीक्षण करें एवं 01 सप्ताह के अंदर अपनी आख्या संयुक्त आयुक्त को उपलब्ध कराएं।

अन्य औद्योगिक क्षेत्रों में विद्युत ट्रिपिंग की समस्या के संबंध में मुख्य विकास अधिकारी द्वारा निर्देश दिए गए कि संबंधित अधीक्षण अभियंता अपने स्तर पर परीक्षण कर लें और इसकी संयुक्त आख्या 01 सप्ताह में संयुक्त आयुक्त उद्योग को उपलब्ध कराएं। बैठक में निवेश मित्र पर लंबित आवेदन पत्रों की समीक्षा करते हुए मुख्य विकास अधिकारी द्वारा संबंधित विभागों को निर्देश दिए गए कि किसी भी स्थिति में समय सीमा के उपरांत कोई भी आवेदन पत्र लंबित नहीं रहना चाहिए एवं संयुक्त आयुक्त उद्योग को निर्देश दिए गए कि इसकी साप्ताहिक रूप से अपने स्तर पर समीक्षा करें एवं यदि किसी विभाग में आवेदन पत्र निर्धारित अवधि के ऊपर लंबित हैं तो तत्काल कार्यवाही हेतु प्रस्ताव प्रेषित किया जाए।

हिंडन बिहार, सिहानी, बनवारी नगर, विकास नगर मेरठ रोड गाजियाबाद में स्थापित औद्योगिक इकाइयों को सील किए जाने संबंधी प्रकरण पर संयुक्त आयुक्त उद्योग द्वारा अवगत कराया गया कि वर्ष 2005 में जिला स्तरीय उद्योग बंधु बैठक के माध्यम से अधिकारियों की समिति बनाकर क्षेत्रों में 220 प्रकार की अप्रदूषणकारी इकाइयों को लगाए जाने का निर्णय लिया गया था, किंतु वर्तमान में उक्त क्षेत्रों में औद्योगिक इकाइयों को बंद कराया जा रहा है। क्षेत्रीय अधिकारी, उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा अवगत कराया गया कि माननीय राष्ट्रीय हरित अधिकरण में उक्त संबंधी वाद प्रचलित है, जिस पर दिनांक 05 फरवरी 2021 को सुनवाई की जाएगी जिस पर मुख्य विकास अधिकारी द्वारा निर्देशित किया गया कि माननीय न्यायालय द्वारा कोई निर्णय आने तक उद्योग बंधु बैठक में लिए गए निर्णय के अनुसार ही कार्यवाही की जाए।

मुख्य विकास अधिकारी ने पांडव नगर इंडस्ट्रियल एरिया के संबंध में निर्देश दिए कि उपाध्यक्ष गाजियाबाद विकास प्राधिकरण अथवा सचिव गाजियाबाद विकास प्राधिकरण के स्तर से प्रथक से बैठक कर आख्या आगामी बैठक में प्रस्तुत की जाए। जनपद की दो औद्योगिक इकाइयों को पायनियर इकाई घोषित किए जाने संबंधी प्रकरण पर प्रथक से बैठक कराए जाने का निर्णय लिया गया। प्रदेश की नई निर्यात नीति के संबंध में संयुक्त आयुक्त उद्योग द्वारा अवगत कराया गया कि नई निर्यात नीति कैबिनेट से अनुमोदित हो चुकी है। जैसे ही प्राप्त हो जाएगी सभी औद्योगिक संगठनों को उपलब्ध करा दी जाएगी।

बैठक में उद्योग बंधुओं द्वारा पीएनजी तथा विद्युत की बढ़ी हुई दरों के संबंध में प्रश्न उठाए जाने पर मुख्य विकास अधिकारी द्वारा एसोसिएशन को निर्देश दिए गए कि उक्त संबंध में विस्तृत प्रस्ताव उपलब्ध करा दें, जिससे कि निर्णय हेतु शासन को प्रेषित किया जा सके। संयुक्त आयुक्त उद्योग द्वारा सभी औद्योगिक संगठनों से अपील की गई कि अपने संगठन से एक निर्यातक का नाम उपलब्ध करा दें जिससे कि निर्यातकों से संबंधित समस्याओं पर प्रथक से बैठक की जा सके। इसी प्रकार सभी औद्योगिक आस्थान में स्थापित निर्यातक इकाइयों का विवरण उपलब्ध कराए जाने का अनुरोध भी किया गया।

मुख्य विकास अधिकारी द्वारा समस्त विभागों को यह निर्देश दिए गए कि अगली उद्योग बंधु बैठक की प्रतीक्षा न करते हुए अधिकतम 15 दिन में अनुपालन आख्या संयुक्त आयुक्त उद्योग को प्रेषित की जाए। संयुक्त आयुक्त उद्योग अपने स्तर से भी संबंधित औद्योगिक संगठनों के साथ प्रथक से बैठक कर लें, जिससे कि यदि किसी माह उद्योग बंधु बैठक के आयोजन में कोई व्यवधान होता है तो भी उद्यमियों की समस्याओं का नियमित निस्तारण होता रहे। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी भू0 अ0, क्षेत्रीय अधिकारी पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड, क्षेत्रीय अधिकारी यूपीएसआईडीसी सहित विभिन्न उद्योगों से आए हुए उद्योग बंधु उपस्थित रहे।

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Leave a Reply

error: Content is protected !!