कोरोना अपडेट

मानसिक सुकून का सूत्र: खुशी बढ़ाएगा और तनाव घटाएगा ‘5 टू 1’ का फॉर्मूला, यह रोगों से लड़ने की क्षमता को भी बढ़ाता है; मात्र 8 हफ्ते में दिखते हैं कई असर

न्यूयार्क की द यूनिवर्सिटी ऑफ वरमॉन्ट मेडिकल सेंटर की रिसर्च कहती है, अपने आसपास की चीजें, ध्वनियां और खुशबू कई तरह से आपके शरीर पर असर छोड़ती है। वैज्ञानिकों ने ऐसी ही 5 तरह की क्रियाओं पर रिसर्च की और उनके फायदे समझे। उन्होंने पाया, ये क्रियाएं इंसान के अंदर खुशी, आशा और अच्छी नींद में बढ़ोतरी करती हैं। इसके अलावा यह रोगों से लड़ने की क्षमता को भी बढ़ाती हैं।

ये क्रियाएं बेचैनी और तनाव को घटाती हैं। इनके जरिए इंसान विचारों पर ध्यान केंद्रित करने की बजाय आसपास के वातावरण को करीब से महसूस करता है।

ये हैं वो 5 क्रियाएं

1. पांच चीजों को ध्यान से देखें
अपने आसपास के वातावरण को देखें। पांच ऐसी चीजों को नोटिस करें जिन पर सामान्य दिनों में आप ध्यान नहीं देते हैं। जैसे पार्क में लगे पेड़। नाम नोट करें।

2. चार चीजों को छूकर उन्हें महसूस करें
घर पर या फिर बाहर चार ऐसी चीजों पर ध्यान दें जिन्हें आप स्पर्श कर महसूस कर सकते हैं। जैसे आपके कपड़े की बनावट, घर पर रखी टेबल की चिकनी सतह।

3. तीन ध्वनियों को सुनें
तीन ऐसी ध्वनियों को महसूस करने की कोशिश करें जो बैकग्राउंड संगीत का अहसास कराती हैं। जैसे घर के बाहर पक्षियों की चहचआहट, किसी अन्य कमरे में हल्का बजता हुआ संगीत आदि।

4. दो चीजों को सूंघ कर महसूस करें
ऐसी गंध पर ध्यान देने की कोशिश करें जिन्हें सामान्यत: आप महत्व नहीं देते। जैसे किचन में बन रहे खाने की खुशबू। आंगन में या फिर बाहर लगे वृक्षों में पके हुए फल आदि। उनके नाम भी लिख सकते हैं।

5. एक चीज चखें, स्वाद महसूस करें
सबसे आसान है कि यदि आप अभी कुछ खा रहे हैं तो उसके स्वाद को पहचानने की कोशिश करें। इसके अलावा च्यूइंग गम या फिर अन्य किसी पेय पदार्थ को पीते समय उसे महसूस कर सकते हैं।

यह क्रियाएं बुजुर्गों को राहत देने वाली हैं
ब्रेन, बिहेवियर एंड इम्यूनिटी जर्नल के मुताबिक, मात्र 8 हफ्ते में ही इन क्रियाओं की मदद से तनाव को कम किया जा सकता है। यही नहीं 55 से 85 वर्ष तक के बुजुर्गों में ये क्रियाएं इम्युनिटी को बेहतर बनाती हैं। साभार-दैनिक भास्कर

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *