एनसीआरगाज़ियाबाद के गुनहगारनागरिक मुद्देमेरठ समाचारमेरा गाज़ियाबादसामाजिक

त्योहार पर जाम से जूझता रहा गाजियाबाद, यूपी रोडवेज को लगी डेढ़ लाख रुपए की चपत

स्वतंत्रता दिवस व रक्षाबंधन के अवसर पर मेरठ रोड, दादरी और बुलंदशहर में लगे जाम ने यूपी रोडवेज की करीब डेढ़ लाख रुपये की आमदनी पर पानी फेर दिया। यूपी रोडवेज की गाजियाबाद डिपो को जाम से रक्षाबंधन के दिन मेरठ रूट से करीब 80 हजार रुपये का नुकसान हुआ। बुलंदशहर रूट पर 2 जगह दादरी और बुलंदशहर में ट्रैफिक जाम हुआ। इस रूट से करीब 70 हजार रुपये का नुकसान होने का अनुमान है।

यूपी रोडवेज के गाजियाबाद डिपो के संचालन को देखने वाले सुनील कुमार का दावा है कि गाजियाबाद से मेरठ के लिए हर रोज करीब 35 बसें चलती हैं। मेरठ के लिए सामान्य दिनों में यह बसें रोज 318 ट्रिप चलती हैं। स्पेशल बस संचालन के दौरान उम्मीद थी कि इस रूट पर रक्षाबंधन के दिन करीब 380 से 90 ट्रिप बसें संचालित हो सकती हैं। मगर मेरठ रोड पर मोदीनगर, मुरादनगर और मोहउद्दीन पुर पर कई किमी लंबा जाम लग गया। इसके चलते इस रूट पर केवल 343 ट्रिप बसें ही चलीं। इससे करीब 3.53 लाख रुपये की इनकम का अनुमान है, जबकि उम्मीद थी कि यह आय 4.33 लाख रुपये तक होगी।

यही हाल यूपी रोडवेज के बुलंदशहर रूट की बसों का भी हुआ। इस रूट की बसें दादरी, सिकंद्राबाद और बुलंदशहर में जाम में फंस गईं। सामान्य तौर पर इस रूट की बसें रोज 326 ट्रिप बसें संचालित होती थीं। टारगेट था कि त्योहार पर इस रूट पर करीब 400 ट्रिप बसें चलाई जाएंगी। जाम के कारण इस रूट पर रोडवेज लोकल तौर पर केवल 363 ट्रिप बसें ही चला पाया।

एक अनुमान के मुताबिक इस रूट से रोडवेज को करीब 70 हजार रुपये की कमी के साथ 3.84 लाख रुपये की आय होने का अनुमान है। रोडवेज का दावा है कि पहले ही ट्रैफिक पुलिस को लिखा गया था कि वह ट्रैफिक जाम की समस्या को रक्षाबंधन के दिन दूर करे, नहीं तो स्पेशल संचालन का कोई फायदा नहीं होगा।

व्हाट्सएप के माध्यम से हमारी खबरें प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

#BreakingNews #Ghaziabad #HamaraGhaziabad #indian #india #follow #instagram #NewIndia

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *