राष्ट्रीय

राहुल गांधी ने ली लोकसभा चुनाव में हार की ज़िम्मेदारी, पार्टी अध्यक्ष पद से दिया इस्तीफा

लोकसभा चुनावों में कांग्रेस पार्टी को मिली हार के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के इस्तीफे को लेकर चल रहा सस्पेंस आज खत्म हो गया। राहुल गांधी ने आज एक पत्र जारी कर लोकसभा चुनाव में पार्टी को मिली हार की जिम्मेदारी ली है। राहुल गांधी ने पत्र में लिखा है कि कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष के रूप में मैं 2019 के चुनावों की हार के लिए जिम्मेदार हूं। हमारी पार्टी के भविष्य के विकास के लिए जवाबदेही महत्वपूर्ण है। मैंने कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, राहुल गांधी ने कहा कि नए अध्यक्ष के फैसले पर बिना किसी देरी के फैसला होना चाहिए। उन्होंने कहा- “मैं इस प्रक्रिया में कहीं नहीं हूं। मैंने पहले ही अपना इस्तीफा सौंप दिया है।” राहुल ने कहा कि कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक जल्द से जल्द बुलाया जाना चाहिए ताकि इस पर फैसला हो सके।

इससे पहले राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी से उनके आवास पर मुलाकात की। पार्टी सूत्रों ने बताया कि सोनिया गांधी के साथ गहलोत की मुलाकात 40 मिनट से ज्यादा चली। कांग्रेस के पांचों मुख्यमंत्रियों के सोमवार को राहुल गांधी से मुलाकात कर उन्हें कांग्रेस प्रमुख पद पर बने रहने गुजारिश करने के 2 दिन बाद गहलोत ने सोनिया से मुलाकात की है। हालांकि, राहुल गांधी ने मुख्यमंत्रियों की मांगों को खारिज कर दिया था और उन्हें नए पार्टी अध्यक्ष की तलाश करने को कहा था।

राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव में पार्टी के बेहद खराब प्रदर्शन के बाद 25 मई को कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने की पेशकश की। कांग्रेस ने चुनाव में महज 52 सीटें जीती। राहुल खुद अपने गढ़ उत्तर प्रदेश के अमेठी में स्मृति इरानी से हार गए लेकिन केरल के वायनाड से जीतकर संसद पहुंचने में कामयाब रहे।

व्हाट्सएप के माध्यम से हमारी खबरें प्राप्त करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.