ताज़ा खबर :
prev next

जब कोई करे पीछा तो ना रहें चुप, उठाएं ये कदम

जब कोई करे पीछा तो ना रहें चुप, उठाएं ये कदम

नई दिल्ली। हर दिन लड़कियों को तमाम परेशानियों से जूझना पड़ता है। स्कूल, कॉलेज से लेकर गली-मुहल्लों तक छेड़छाड़ से गुजरते हुए वह अपना कदम आगे बढाती है। लेकिन कई बार ऐसा भी होता है कि कुछ घटनाओं से वह काफी दर जाती हैं और अपने आपको कमजोर समझकर या कोई उनके बारे में गलत न सोच ले, इन सभी बातों से कतरा कर सबकुछ सहती रहती है जिससे आगे चलकर उनका जीवन और भी नरक बन जाता है।

आसान भाषा में कहा जाए तो वो इंसान जो आपकी मर्जी के बिना या मना करने के बाद भी लगातार आपका पीछा करे, उसे स्टॉकर कहते हैं। सोशल मीडिया पर भी पीछा करने वाले को भी स्टॉकर ही कहते हैं। इंडियन पीनल कोड की धारा 354 डी यही कहती है। पर, सबसे खास बात यह है कि इस मुद्दे से जुड़ा कानून 3 साल पहले तक भारत में नहीं था। दिल्ली में निर्भया कांड होने के बाद क्रिमिनल लॉ(अमेंडएंट) एक्ट, 2013 में यह कानून बनाया गया।

यदि कोई आपका पीछा करता है तो उसके लिए सजा भी है भरपूर-

किसी महिला का पीछा करने वाले व्यक्ति  को तीन साल जेल और जुर्माने का प्रावधान है। दोबारा ऐसा करने पर पांच साल तक की जेल हो सकती है।

कैसे जानें-

आप जहां भी जाती हैं, वहां एक व्यक्ति हमेशा दिखता है।

आपको लगातार अनचाहे तोहफे मिल रहे हैं। इसके अलावा लगातार अनचाहे मैसेज और ईमेल मिलने

पर भी सतर्क होने की जरूरत है।

एक ही वाहन आपको घर, ऑफिस या जहां भी आप जाती हैं, दिखता है।

आपको फोन आते हैं,  पर उधर से कोई कुछ नहीं बोलता।

आपको नुकसान पहुंचाने की धमकी मिल रही हो।

कोई आपके बारे में आपके जानने वालों से लगातार जानकारी जुटा  रहा हो।

क्या करें-

तुरंत पुलिस की मदद लें।

अपने दोस्तों और परिवार के सदस्यों को अपनी परेशानी के बारे में बताएं।

पीछा करने वाले से किसी भी तरह का संवाद न करें।

पीछा और परेशान किए जाने के सारे सबूत संभाल कर रखें।

आने-जाने का रास्ता, फोन नंबर और सारे पासवर्ड जरूर बदल लें।

कोई पीछा कर   रहा हो तो तुरंत भीड़ में जाने की कोशिश करें।

 

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।