ताज़ा खबर :
prev next

असाध्य बीमारी से पीड़ित माँ-बेटी ने मांगी “इच्छा मृत्यु” की इजाजत

असाध्य बीमारी से पीड़ित माँ-बेटी ने मांगी “इच्छा मृत्यु” की इजाजत

कानपुर | कानपुर जिले में ‘मस्क्युलर डिस्ट्राफी’ नामक गम्भीर बीमारी से पीड़ित मां-बेटी ने राष्ट्रपति को पत्र लिखकर ‘इच्छा मृत्यु‘ की इजाजत मांगी है। नौबस्ता स्थित यशोदा नगर की रहने वाली और लगभग लाइलाज बीमारी ‘मस्क्युलर डिस्ट्राफी‘ से पीड़ित शशि मिश्रा (56) और उनकी बेटी अनामिका मिश्रा (33) ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र लिखकर इच्छा मृत्यु की मांग की है। नगर मजिस्ट्रेट राज नारायण पाण्डेय ने बताया कि पत्र सीधे राष्ट्रपति को भेजा गया है। इसके अतिरिक्त राज्य सरकार से वित्तीय मदद मुख्यमंत्री राहत कोष से जारी होगी और इसकी प्रक्रिया जल्द ही पूरी की जाएगी।

पीड़िता अनामिका ने बताया कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा को भी पत्र लिखकर आग्रह किया था कि या तो उनके इलाज के लिये समुचित मदद की जाए या फिर इच्छा मृत्यु की इजाजत दे दी जाए। अपनी इन मांगों को लेकर रविवार से अपने घर पर ही धरने पर बैठी अनामिका ने बताया कि उनके पिता गंगा मिश्रा भी ‘मस्क्युलर डिस्ट्राफी’ से पीड़ित थे और करीब 15 साल पहले उनकी मौत हो गयी। उसके बाद से उनके परिवार की देखभाल करने वाला कोई नहीं है। उन्होंने बताया कि उनकी मां को वर्ष 1985 में इस बीमारी से पीड़ित होने के बारे में पता लगा था। उसके बाद से ही वह बिस्तर पर हैं। करीब छह साल पहले खुद वह भी इस बीमारी की जद में आ गयीं। फिलहाल भारत में इस बीमारी का कोई इलाज नहीं है और विदेश में इलाज के लिये उनके पास पैसा नहीं है।

क्या आपका जल्दी पहुँचना इतना जरूरी है? जरा सोचिए !

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad
Subscribe to our News Channel

By हमारा गाज़ियाबाद ब्यूरो : Monday 16 जुलाई, 2018 21:26 PM