ताज़ा खबर :
prev next

होली एंजेल स्कूल प्रबंधन के खिलाफ एफआईआर

होली एंजेल स्कूल प्रबंधन के खिलाफ एफआईआर

गाज़ियाबाद। दाखिले करने के प्रकरण मे गुरूवार को कविनगर के होली एंजेल स्कूल प्रबंधन के खिलाफ एफआईआर दर्ज हो गई है। होली एंजेल स्कूल में पढ़ने वाले छात्र के पिता पवन गोयल ने यह एफआईआर दर्ज कराई है। स्कूल प्रबंधन ने छात्र का पंजीकरण सीबीएसई में नहीं कराया था। इससे छात्र का प्रवेश पत्र नहीं आया। प्रवेश पत्र न होने के कारण छात्र बोर्ड़ परीक्षा में नहीं बैठ पाए थे। करीब 120 छात्रों के पास प्रवेश पत्र न होने से वे बोर्ड परीक्षा में नहीं बैठ पाए। महाराजा कॉन्वेंट स्कूल, जवाहरलाल पब्लिक स्कूल, आर्यभट्ट स्कूल द्वारा फर्जी तरीके से छात्रों का रजिस्ट्रेशन होली एंजेल स्कूल में कराए गया था।

होली एंजेल स्कूल के फर्जी रजिस्ट्रेशन के कारण कई छात्रों का प्रवेश पत्र सीबीएसई ने रोक लिया था। वे सभी छात्र दसवीं की बोर्ड परीक्षा नहीं दे पाए हैं। इस मामले में होली एंजेल स्कूल प्रबंधन के खिलाफ थाने में तहरीर दी थी। तहरीर के आधार पर कविनगर पुलिस ने स्कूल प्रबंधक, प्रधानाचार्य व अन्य के खिलाफ धारा 420 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। उधर स्कूल प्रबंधक सिद्धार्थ जैन का कहना है कि छात्र नौवीं कक्षा में फेल था। उनके किसी अन्य स्कूल से नौवीं कक्षा की पढ़ाई की थी।

छात्र के अभिभावकों ने होली एंजेल में दसवीं में दाखिला इस शर्त पर कराया था कि वह नौवीं पास की अंक तालिका जमा करेंगे। बावजूद इसके अभिभाबक बच्चे की पास की अंक तालिका जमा नहीं कर पाए। इसी वजह से सीबीएसई बोर्ड ने बच्चे का दाखिला रद्द करते हुए प्रवेश पत्र जारी नहीं किया। वहीं बच्चे के पिता पवन गोयल का कहना है कि उनके साथ धोखा किया गया है। प्रबंधन ने फेल अंकतालिका दाखिला ने के बाद दसवीं पास कराने का आश्वासन दिया था।

सीबीएसई की तरफ से भी जांच शुरू

फर्जी दाखिले के मामले में सीबीएसई की तरफ से भी सभी स्कूलों के खिलाफ जांच शुरू हो गई है। छात्रों का रजिस्ट्रेशन फजी होने के चलते सीबीएसई ने इन छात्रों का प्रवेश पत्र रोक लिया था। मुख्यमंत्री से भी की गई शिकायतअभिभावकों ने विद्यार्थियों का भविष्य खराब करने वाले स्कूलों के खिलाफ मुख्यमंत्री के शिकायती पोर्टल पर ऑनलाईन शिकायत की है। शिकायत में मामले की जांच करने और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।