ताज़ा खबर :
prev next

पत्नी की हत्या के मामले में दोषी पति को आजीवन कारावास

पत्नी की हत्या के मामले में दोषी पति को आजीवन कारावास

गाज़ियाबाद। हत्या के मामले में दोषी पति को अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश-12 राम किशोर पांडेय की अदालत ने बुधवार को आजीवन कारावास की सजा सुनाई साथ में 15 हजार रुपये जुर्माना भी लगाया गया है। मामला लोनी थाना क्षेत्र की डीएलएफ कॉलोनी का है।

सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता शिवकुमार त्यागी ने बताया कि लोनी थाना क्षेत्र की डीएलएफ कॉलोनी में रहने वाले विक्रम सिंह तोमर ने वर्ष 2005 में रीतू बाला से प्रेम विवाह किया था। आरोप है कि विक्रम शराब पीने का आदी था रीतू बाला विरोध करती थी तो वह उससे मारपीट करता था। 19 दिसंबर 2015 को उसने डीएलएफ स्थित घर में अवैध पिस्टल से गोली मारकर रीतू बाला की हत्या कर दी।

मामले में मृतका के पिता यादव सिंह ने दामाद के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। विक्रम को गिरफ्तार करने के बाद उसकी निशानदेही पर पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त अवैध पिस्टल बरामद की। वादी पक्ष के अधिवक्ता महमूद खां ने बताया कि अभियोजन की तरफ से मामले में नौ गवाह पेश किए गए। सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता के मुताबिक अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश-12 राम किशोर पांडेय की अदालत ने साक्ष्यों के आधार पर बुधवार को विक्रम सिंह तोमर को आजीवन कारावास की सजा सुनाते हुए 15 हजार रुपये जुर्माना लगाया।

 

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।