ताज़ा खबर :
prev next

घर का सारा सामान लेकर पति हुआ चंपत, पुलिस नहीं कर रही रिपोर्ट दर्ज

घर का सारा सामान लेकर पति हुआ चंपत, पुलिस नहीं कर रही रिपोर्ट दर्ज

गाज़ियाबाद। मुरादनगर थाना क्षेत्र अंतर्गत एक महिला का आरोप है कि घर का सारा सामान लेकर पति चंपत हो गया है और पुलिस इस मामले में उनकी मदद नहीं कर रही है। पीड़िता उनकी ढाई साल की बच्ची बीते चार दिन कपड़े भी नहीं बदले हैं। आरोप है कि एसएसपी ने मदद करने के बजाए आइजी और एडीजी से गुहार लगाने को कह दिया। पीड़िता एडीजी जोन प्रशांत कुमार से मिलने पहुंची। उनके आश्वासन के बाद भी न तो उनका सामान मिल रहा है और न ही पुलिस पति के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर रही है।

सोनिया का कहना है कि दहेज की मांग को लेकर पति परेशान करता था। उनका कहना है कि इस मामले में न्यायालय ने पति द्वारा हर माह आठ हजार रुपये भत्ते के लिए देने का फैसला दिया था। पति ने उन्हें जायदाद से बेदखल करने का भी मुकदमा किया है। 12 फरवरी को वह सुनवाई में गई थी। इसी दौरान पति आया और घर से दस्तावेज, ज्वेलरी, नकदी और कपड़े समेत लाखों रुपये का सामान ले जाने लगा। विरोध किया, लेकिन आरोपी सारा सामान ले गया। उनके गर्भ में चार माह का बच्चा भी पल रहा है। मगर सामान और पैसे नहीं होने के चलते उन्हें दो वक्त की रोटी भी नहीं मिल पा रही है।

पीड़िता का कहना है कि पुलिस राजनीतिक दबाव में उनकी मदद नहीं कर रही। एसएसपी हरिनारायण सिंह का कहना है कि पति ने मकान बहन के नाम कर दिया है। इसके बाद भी पुलिस ने उन्हें उस मकान में ठहरने में मदद की। एसएसपी ने पीड़िता द्वारा मदद न करने और आइजी व एडीजी से मिलने को कहने की बात को बेबुनियाद बताया।

 

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।