ताज़ा खबर :
prev next

परिवार बना ताक़त, शादी के बाद पल्लवी ने बनाया बाइक राईडिंग में वर्ल्ड रिकॉर्ड

परिवार बना ताक़त, शादी के बाद पल्लवी ने बनाया बाइक राईडिंग में वर्ल्ड रिकॉर्ड

गाज़ियाबाद। ‘कहा जाता है मकान यदि मजबूत बनाना है तो नींव को और भी मजबूत बनाना पड़ता है ठीक उसी तरह जिंदगी में अगर अपनी अलग पहचान बनाना है तो अपने होंसलो को बुलंद रखना पड़ेगा’ ये कहना है आगरा की रहने वाली (39 वर्षीय) पल्लवी फौजदार का।  पल्लवी फौजदार का नाम ‘लिम्का बुक आफ रिकॉर्ड’ में भी दर्ज है। दो बच्चों की मां पल्लवी की सबसे बड़ी ताकत उनका परिवार है। पति परीक्षित मिश्रा सेना में अधिकारी हैं। जबकि पल्लवी बाइकर के अलवा बेंगलुरू में बतौर फैशन डिजाइनर काम कर चुकी हैं। वे समाजसेवी और रेकी विशेषज्ञ भी हैं।

बता दें पल्लवी फौजदार असल में पल्लवी मिश्रा हैं, उन्हें फौजदार नाम उनके पिता से मिला है। बचपन से ही लड़कों को टक्कर देने वाली पल्लवी फौजियों की तरह रहती थी। जिसे देखकर उनके पिता ने उनके नाम के आगे फौजदार लगा दिया। शादी के बाद खुद को खो चुकी पल्लवी के जीवन के नए दौर कि शुरुआत 7 जुलाई 2015 से हुई। लद्दाख में उनके 15 दिन के ट्रिप में उन्होंने बाइक राइड्स का वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया।

हमारा गाज़ियाबाद की टीम से बात करते हुए वे बताती हैं कि उन्होंने बाइक से विश्व की सबसे ऊंची झील में से एक देवताल (17950 फुट) तक भी पहुंच चुकी हैं। वे 6502 मीटर ऊंचे साताटोला दर्रे पर भी बाइक से जा चुकी हैं। इसके अलावा पल्लवी हिमालय के बर्फीले पहाड़ों की 5 हजार मीटर की ऊंचाई के 9 दर्रों और 19323 फीट ऊंचाई वाले उमलिंगला पर पहुंचने वाली पहली बाइकर हैं।

इससे पहले वे 18774 फीट की ऊंचाई वाले मानापास तक भी पहुंची हैं। इसी साल उन्हें भारत सरकार के नारी शक्ति पुरस्कार से सम्मानित भी किया जा चुका है।

जिंदगी में आने वाली सभी चुनौतियों को मात देने वाली पल्लवी का कहना है कि सपनो कि कोई उम्र नहीं होती, वे कभी भी पूरे किये जा सकते हैं। इनकी बाइक राइड्स ग्रुप में केवल महिलाऐं व लड़कियां हैं। बाइक राइड्स के माध्यम से ये ग्रामीण क्षेत्र कि महिलाओं को जागरूक करने का काम करती हैं।

 

पल्लवी फौजदार ने न केवल अपने अधूरे सपने पूरे किये बल्कि महिलाओं के लिए प्रेरणा कि श्रोत भी बनी है।  हमारा गाज़ियाबाद कि टीम इनके होंसले को सलाम करती है।  

 

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।

By प्रगति शर्मा : Thursday 22 फ़रवरी, 2018 20:03 PM