ताज़ा खबर :
prev next

राज्यसभा में सुब्रमण्यम स्वामी ने पेश किया गाय संरक्षण बिल 2017, गौ हत्या के दोषी को फांसी की सजा का प्रावधान

राज्यसभा में सुब्रमण्यम स्वामी ने पेश किया गाय संरक्षण बिल 2017, गौ हत्या के दोषी को फांसी की सजा का प्रावधान

नई दिल्ली | भारतीय जनता पार्टी के राज्य सभा सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री सुब्रमण्यम स्वामी ने आज राज्य सभा में गाय संरक्षण बिल 2017 पेश किया और गोहत्या के दोषियों के लिए फांसी की सजा देने की मांग की। उच्च सदन में बिल पेश करते हुए स्वामी ने कहा कि मुगल काल में भी बहादुर शाह जफर ने गौ-हत्या पर प्रतिबंध लगाया था। उन्होंने कहा कि ब्रिटिश काल आने के बाद ही देश में गौ-हत्या का चल बढ़ा। स्वामी ने सदन को बताया कि आधुनिक विज्ञान में यह बात सिद्ध हो चुकी है कि गाय से मिलने वाले उत्पादों के कई वैज्ञानिक पहलू हैं। उन्होंने कहा कि गौ मूत्र का इस्तेमाल दवा बनाने में होता है। अमेरिका ने इसके लिए पेटेंट भी हासिल कर लिया है जबकि हमारे ऋषिमुनियों ने हजारों साल पहले ही इस बारे में बताया था।

बिल के प्रावधानों की चर्चा करते हुए स्वामी ने कहा कि हमें हर एक गांव में गौशाला की स्थापना करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि चूंकि गोमांस निर्यात की अत्यधिक मांग है, इसलिए इस धंधे में शामिल लोगों को कड़ी से कड़ी सजा दी जानी चाहिए। इसमें अर्थदंड से लेकर फांसी की सजा तक होनी चाहिए। स्वामी के प्रस्ताव पर तेलंगाना से कांग्रेस के सांसद आनंद भास्कर ने स्वामी पर तंज कसा कि हमें गाय की सेहत पर ध्यान जरूर देना चाहिए लेकिन गाय को राजनीतिक पशु नहीं बनाना चाहिए।


आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।

By हमारा गाज़ियाबाद ब्यूरो : Monday 26 फ़रवरी, 2018 04:37 AM