ताज़ा खबर :
prev next

पूर्व नियोजित हो सकती है कासगंज हिंसा, योगी सरकार ने केंद्र को भेजी अपनी अन्तरिम रिपोर्ट

पूर्व नियोजित हो सकती है कासगंज हिंसा, योगी सरकार ने केंद्र को भेजी अपनी अन्तरिम रिपोर्ट

लखनऊ | गणतन्त्र दिवस पर कासगंज में विश्व हिन्दू परिषद और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा निकली जा रही तिरंगा यात्रा पर मुस्लिम युवकों द्वारा किए गए हमले के बाद हुए दंगों के मामले में योगी सरकार ने अपनी अन्तरिम रिपोर्ट केंद्र सरकार को भेज दी है। इस रिपोर्ट में उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा अब तक की गई कार्रवाई और जांच का ब्यौरा दिया गया है। योगी सरकार ने केंद्रीय गृह मंत्रालय को बताया है कि हिंसा के विभिन्न पहलुओं की जांच की जा रही है। इस बात का पता लगाने का प्रयास हो रहा है कि क्या हिंसा पूर्व नियोजित साजिश का हिस्सा थी।

गृह मंत्रालय के सूत्रों ने कहा कि अभी राज्य सरकार ने आरंभिक रिपोर्ट भेजी है। इसमें घटना का सिलसिलेवार विवरण और कार्रवाई की जानकारी दी गई है। विस्तृत रिपोर्ट का अभी इंतजार है। गौरतलब है कि कासगंज हिंसा में अब तक 118 लोगों को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है।

उधर राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग ने भी उत्तर प्रदेश के कासगंज जिले में पिछले दिनों भड़की सांप्रदायिक हिंसा के मामले का स्वत: संज्ञान लेते हुए बुधवार को राज्य सरकार को नोटिस जारी किया और इस घटना के बाद हुई गिरफ्तारियों, दर्ज प्राथमिकियों और हालात सामान्य बनाने के लिए उठाए गए कदमों का ब्यौरा देने को कहा। आयोग के अध्यक्ष सैयद गैयूरुल हसन रिजवी ने उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव को नोटिस जारी किया। इसमें राज्य प्रशासन से पांच दिनों के भीतर जवाब मांगा गया है। रिजवी ने कहा, हमने इस मामले पर स्वत: संज्ञान लिया और राज्य सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा।


आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।

By हमारा गाज़ियाबाद ब्यूरो : Monday 26 फ़रवरी, 2018 04:37 AM