ताज़ा खबर :
prev next

डॉक्टरों ने दी चेतावनी- छींक को रोकना हो सकता है घातक

डॉक्टरों ने दी चेतावनी- छींक को रोकना हो सकता है घातक

नई दिल्ली। नाक और मुंह बंद करके छींक को जबरदस्ती रोकने का प्रयास जीवन के लिए घातक हो सकता है। डॉक्टरों ने इस संबंध में चेताया है। इन डाक्टरों में भारतीय मूल के डाक्टर भी शामिल हैं।

दरअसल, एक व्यक्ति हाल में छींक रोकने का प्रयास करते हुए घायल हो गया था। उसके गले में दिक्कत पैदा हो गई थी। नाक और मुंह बंद करके छींक को रोकने का प्रयास करने पर इस युवक के गले में झनझनाहट पैदा हो गई और फिर गला सूज गया। ब्रिटेन के लीसेस्टर विश्वविद्यालय अस्पताल के डाक्टरों ने उसका इलाज किया।

भारतीय मूल के डाक्टरों ने कहा कि थोड़ी देर बाद उसने कोई चीज निकलने में दर्द महसूस किया और फिर उसकी आवाज चली गई। सात दिन अस्पताल में भर्ती रहने के बाद उसकी दिक्कतें कम हुईं और उसे छुट्टी दी गई। डाक्टरों ने कहा, ‘नाक और मुंह बंद करके छींक को रोकना खतरनाक है और इससे बचा जाना चाहिए।

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।